एंड्राइड स्टूडियो

एंड्राइड स्टूडियो क्या है और क्या है इसकी विशेषताएं ?

Spread the love

एंड्राइड , यह दुनिया की सबसे सफल और लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम्स में से एक है ! Android दुनिया भर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली OS है , लेकिन क्या आपको पता है की हम जो एंड्राइड ऍप्स इस्तेमाल करते है वह एंड्राइड ऍप्स कैसे बनाये जाते है ? तो ज्यादातर Android Apps जो हम रोजाना इस्तेमाल करते है वह एंड्राइड स्टूडियो ही बनायीं जाती है . इस लेख में हम जानेंगे Android Studio के बारे में की आखिर ” एंड्राइड स्टूडियो क्या है और इसका इतिहास , फीचर्स , विशेषताओं के बारे में आप इस आर्टिकल के साथ बने रहिये .

दोस्तों आजकल हर कोई अपनी खुद की एंड्राइड एप्लीकेशन बनाने की सोचता है और इंटरनेट पर ऐसे websites भी है जो की 10 – 15 मिनट में आपको ऍप बनाकर देती है जहा पर आपको कुछ ज्यादा हार्डवर्क भी नहीं करना होता है . लेकिन ऐसी websites पर आप बहुत ही साधारण सी और कम फ़ंक्शनैलिटी वाली ऍप्स बना सकते है जो हर कोई बिना टेक्निकल नॉलेज के भी आसानी से बना लेता है .

यदि आपके पास कोई नया आईडिया आया है जिसपर आप ऍप बनाना चाह रहे है तो आप ऐसे websites से अपना ऍप नहीं बना सकते है , ऐसे में आपको एंड्राइड स्टूडियो पर ही ऍप बनाना चाहिए . जितने भी बड़े बड़े एंड्राइड ऍप्स है जैसे Whatsapp , Paytm , Hike ,Telegram etc . यह सब भी एंड्राइड स्टूडियो से ही बने हुए है , और अगर आप भी ऐसे ऍप्स बनाना चाह रहे है तो आपको एंड्राइड स्टूडियो सीखना पड़ेगा जहा से आप जैसा चाहोगे वैसा ऍप अपनी मर्जी से बना सकते हो .

एंड्राइड स्टूडियो क्या है – What is Android Studio in Hindi

एंड्रॉइड स्टूडियो गूगल के एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए आधिकारिक एकीकृत development environment है , जिसे JetBrains के IntelliJ IDEA सॉफ़्टवेयर पर बनाया गया है और विशेष रूप से एंड्रॉइड डेवलपमेंट के लिए डिज़ाइन किया गया है , यह विंडोज , IOS और लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम्स पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है .

यह गूगल द्वारा एंड्राइड डेवलपमेंट के लिए बनाया हुआ एक ओपन सोर्स आधिकारिक सॉफ्टवेयर है जो की बिलकुल फ्री है . जबकि यह गूगल का प्रोडक्ट है इसलिए एंड्राइड स्टूडियो को आप एक सिक्योर IDE भी मान सकते है .

अगर आप app development के लिए एक परफेक्ट सॉफ्टवेयर ढूंढ़ रहे है तो , एंड्राइड ऍप डेवलपमेंट के लिए Android Studio सबसे बेस्ट और official सॉफ्टवेयर है जिसकी मदत से आप प्रोफेशनल Android Apps बना सकते है .

> फ्री में खुद का एंड्राइड ऐप बनाये बिना कोडिंग के ?

एंड्राइड स्टूडियो का इतिहास – History of Android Studio in Hindi

गूगल ने एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम , 23 September 2008 को लांच कर दिया था लेकिन उस वक़्त एंड्राइड ऍप्स डेवलपमेंट के लिए Eclipse Android Development Tools (ADT) का इस्तेमाल किया जाता था , जिसमे Java प्रोग्रामिंग से ऍप्स बनाये जाते थे .

दोस्तों अगर आपको नहीं पता Eclipse क्या है तो आपको बता दू की यह जावा प्रोग्रामिंग डेवलपमेंट के लिए इस्तेमाल किया जानेवाला एक काफी पुराना और लोकप्रिय IDE है जो की 7 November 2001 को एक्लिप्स फाउंडेशन द्वारा रिलीज़ किया गया था , एंड्राइड स्टूडियो आने से पहले शुरुआत में सभी एंड्राइड ऍप्स इसमें ही बनाये जाते थे और अभी भी इसमें एंड्राइड ऍप्स बनते है लेकिन काफी कम .

लेकिन कुछ समय बाद गूगल ने अपना खुद का एक एंड्राइड ऍप्स डेवलपमेंट सॉफ्टवेयर (IDE) बनाने पर विचार किया और आख़िरकार गूगल ने 16 मई 2013 को एंड्राइड स्टूडियो की घोषणा की जो की एंड्राइड डेवलपमेंट के किये एक काफी पावरफुल और ऑफिसियल सॉफ्टवेयर था , जिसमे काफी सारे एडवांस फीचर्स दिए गए जिसकी दुनियाभर के एंड्राइड डेवेलपर्स को काफी जरुरत थी .

Google I/O conference में लांच किया गया यह पावरफुल IDE का शुरूआती version , 0.1 था जो की बीटा टेस्टिंग के पहले का version था , बाद में जून 2014 को इसका बीटा version लांच किया गया जो था Android Studio 0.8 और यह स्टेबल version नहीं था . लगबघ 7 महीने बाद दिसंबर 2014 को इसका पहला Stable version लांच किया गया जिसका नाम था Android Studio 1.0

Android Studio Versions History

VersionsRelease Date
1.0December 2014
1.1February 2015
1.2April 2015
1.3July 2015
1.4September 2015
1.5November 2015
2.0April 2016
2.1April 2016
2.2September 2016
2.3March 2017
3.0October 2017
3.1March 2018
3.2September 2018
3.3January 2019
3.4April 2019
3.5August 2019
3.6February 2020
4.0May 2020

एंड्राइड स्टूडियो की विशेषताएं – Features of Android Studio in Hindi

यदि हम एंड्राइड स्टूडियो के फीचर्स की बाते करें तो इसमें काफी आसान और कमाल के फीचर्स मिलते है अगर आप कोई प्रोफेशनल एंड्राइड ऍप डेवलपर भी नहीं है तब भी आप इससे छोटे छोटे बेसिक ऍप्स बना सकते है , क्योंकि यह सॉफ्टवेयर काफी यूजर फ्रेंडली है .

A rich layout editor

एंड्राइड स्टूडियो का जो लेआउट एडिटर है वह काफी यूजर फ़्रेंडली दिया गया है ! जिसमे आप UI components को डायरेक्ट drag-and-drop कर के ऍप डिज़ाइन कर सकते है इसके लिए आपको एक्स्ट्रा कोडिंग करने की आवश्यकता नहीं होगी .

एंड्राइड स्टूडियो में आप TextView , EditText , Button , ImageButton , ToggleButton , CheckBox , RadioButton जैसे कम्पोनेंट्स बिना कोडिंग के डायरेक्ट ड्रैग करके इस्तेमाल कर सकते है .

Gradle-based build support

दरअसल Gradle किसी सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट IDE में इस्तेमाल किया जाने वाला एक ऑटोमेशन टूल होता है जो सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट प्रोसेस पर नियंत्रण करता है . Gradle की मदत से एंड्राइड स्टूडियो में ऍप बनाने में ज्यादा प्रोब्लेम्स नहीं आते है और छोटी से छोटी मिस्टेक भी हममे तुरंत पता लग जाती है .

एंड्राइड स्टूडियो में Gradle tool दिया हुआ है और यह पूरा IDE ऍप डेवलपमेंट से लेकर ऍप पब्लिशिंग तक Gradle पर काम करता है .

Support for building Android Wear apps

जी हाँ दोस्तों आप एंड्राइड स्टूडियो में स्मार्ट वॉचेस के लिए भी ऍप्स बना सकते है क्योंकि इसमें दिया गया है Android Wear apps का भी फीचर जिसमे आप स्मार्टवॉचेस के लिए भी ऍप्स बना सकते है .

स्मार्टवॉचेस के लिए ऍप्स आप उसी तरीके से बना सकते है जैसे स्मार्टफ़ोन्स के बनाते है बस यहाँ पर स्क्रीन साइज अलग होती है बाकि सब चीजे वैसी ही रहेगी .

Instant App Run

यह एंड्राइड स्टूडियो का एक काफी शानदार फीचर जिसमे आप अपना ऍप किसी भी समय लाइव Run करके देख सकते है .

इंस्टेंट रन में आप अगर ऍप में changes भी करते है तो आपको वह तुरंत दिखाई देते है , इसके लिए आपको बार बार apk install करने की आवश्यकता नहीं है .

Support KOTLIN

दोस्तों अगर आपको नहीं पता होगा तो KOTLIN को एंड्राइड डेवलपमेंट की आधिकारिक लैंग्वेज घोषित कर दिया है जबकि शुरुआत से एंड्राइड ऍप्स Java लैंग्वेज में बनाये जाते थे और अब भी बनते है ! एंड्राइड स्टूडियो में आप जावा के साथ साथ KOTLIN प्रोग्रामिंग से भी ऍप्स बना सकते है क्योंकि एंड्राइड स्टूडियो कोटलिन को सपोर्ट करता है .

Fast Emulator

एमुलेटर यह Android Apps टेस्ट करने के लिए बनाया हुआ एक वर्चुअल डिवाइस है , जो बिलकुल आपके फिजिकल एंड्राइड डिवाइस की तरह आउटपुट आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर ही दिखा देता है .

इस से आप अपने हिसाब से अलग अलग डिवाइस पर अपना ऍप टेस्ट कर सकते है जैसे , एंड्राइड सेल फ़ोन , टेबलेट etc . और यह बिलकुल आके फिजिकल डिवाइस की तरह ही काम करता है .

एंड्राइड स्टूडियो के लिए सिस्टम आवश्यकताएँ

जैसा की आपको पता है की एंड्राइड स्टूडियो एक काफी पावरफुल IDE है वैसे ही इसके लिए कुछ खास system requirements की आवश्यकता होती है .

यदि आप आप अपने कंप्यूटर / लैपटॉप में बिना किसी दिक्कत के एंड्राइड स्टूडियो को चलाना चाहते है तो आपके सिस्टम में कम से कम 8 GB RAM होना चाहिए और इससे ज्यादा RAM है तो बहुत बढ़िया !

लेकिन अगर आप 4 GB RAM के साथ एंड्राइड स्टूडियो चलाना चाह रहे हो तो आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है . यह 4 GB पर भी काम करेगा लेकिन बहुत Slow गति से , इसलिए अगर आपका सिस्टम 4 GB पर है तो आप इसे upgrade कर लें .

Operating SystemsOperating System Version RAMFree disk spaceMinimum required JDK versionMinimum screen
WindowsMicrosoft Windows 7/8/10 (32- or 64-bit)

The Android Emulator only supports 64-bit Windows.
4 GB RAM minimum; 8 GB RAM recommended.2 GB of available disk space minimum, 4 GB Recommended (500 MB for IDE + 1.5 GB for Android SDK and emulator system image).Java Development Kit 81280 x 800
LinuxGNOME or KDE desktop
Tested on gLinux based on Debian (4.19.67-2rodete2).
4 GB RAM minimum; 8 GB RAM recommended.2 GB of available disk space minimum, 4 GB Recommended (500 MB for IDE + 1.5 GB for Android SDK and emulator system image).Java Development Kit 81280 x 800
IOSMac® OS X® 10.10 (Yosemite) or higher,
up to 10.14 (macOS Mojave)
4 GB RAM minimum; 8 GB RAM recommended.2 GB of available disk space minimum, 4 GB Recommended (500 MB for IDE + 1.5 GB for Android SDK and emulator system image).Java Development Kit 81280 x 800

Data Source – Wikipedia

एंड्राइड स्टूडियो से ऍप्स बनाने का क्या फायदा है ?

दोस्तों जैसा की हमे पता है की एंड्राइड स्टूडियो के अलावा भी बहुत सारे तरीके है जिनसे हम मिनटों में ऍप्स बना सकते है लेकिन एंड्राइड स्टूडियो से ऍप्स बनाने के बहुत सारे खास benefits है .

  • Android Studio में आप जैसा चाहे वैसा ऍप बना बना सकते है .
  • Android Studio में ऍप के 100 % मालिक आप होते है , जबकि किसी भी थर्ड पार्टी ऍप बनाने वाली वेबसाइट में उस ऍप के Rights उस वेबसाइट के पास होते है .
  • drag & drop की मदद से कोई भी आम इंसान एंड्राइड स्टूडियो में ऍप डिज़ाइन कर सकता है .
  • Live Emulator की मदद से आसानी से ऍप टेस्टिंग किया जा सकता है .


दोस्तों इस लेख में हमने एंड्राइड स्टूडियो के बारे में जानने की कोशिश की है , एंड्राइड स्टूडियो क्या है और इसके फीचर , बेनिफिट्स , इतिहास के बारे में अगर आपको एंड्राइड स्टूडियो के बारे में और भी कुछ जानना है तो कमेंट करके जरूर बताये , धन्यवाद !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *