FUP क्या होता है | FUP Full Form, Meaning in Hindi

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि FUP क्या होता है? और यह कैसे काम करता है और क्या आपको इससे फायदा होता है या नुकसान! इन सब चीजों को बताने से पहले आपको सबसे पहले यह जानना होगा कि FUP की फुल फॉर्म क्या होती है तो हम आपको बता दें कि FUP की फुल फॉर्म (fair use policy) फेयर यूज पॉलिसी होती है अब आप कहेंगे कि इस फेयर यूज पॉलिसी का उपयोग कहां होता है तो आज हम इन्हीं सब चीजों के बारे में विस्तार से बात करने वाले हैं।

FUP

FUP (fair use policy) क्या है?

FUP का फुल फॉर्म fair use policy होता है जिसका हिंदी में मतलब “उचित उपयोग नीति” होता है। फेयर यूज़ पॉलिसी क्या है इसे समझने से पहले यह बात कर लेते हैं कि फेयर यूज़ पॉलिसी का उपयोग कहां होता है तो जब आप अपने सिम कार्ड में किसी भी प्लान से रिचार्ज कराते हैं तो आपने वहां पर उस प्लान की terms and conditions मैं FUP या fair use policy लिखा हुआ जरूर देखा होगा जैसे कि जियो के सिम कार्ड में जब आप ₹239 का रिचार्ज कराते हैं तो आपने अगर कभी गौर किया हो तो उस प्लान की terms and conditions में इस fair use policy का जिक्र होता है.

₹239 के रिचार्ज में जिओ की तरफ से आपको डेढ़ जीबी डाटा प्रतिदिन और अनलिमिटेड कॉल्स के साथ-साथ 100 SMS प्रतिदिन की सुविधा देखने को मिलती हैं लेकिन आपने देखा होगा कि जियो अपने प्लांस में Unlimited 1.5GB Data दिखाता है लेकिन सोचने वाली बात यह है कि हमको अनलिमिटेड डाटा तो नहीं मिलता जब हमारा डेढ़ जीबी डाटा खत्म हो जाता है तो हमारी स्पीड बहुत ही कम हो जाती है लेकिन आपका स्मार्टफोन तब भी इंटरनेट से कनेक्ट रहता है इसलिए जिओ इसको अनलिमिटेड डेढ़ जीबी डाटा कहता है फेयर यूज़ पॉलिसी भी TRAI (telecom authority of india) के द्वारा इसी के लिए लाई गई थी।

FUP (fair use policy) का उपयोग कहाँ होता है?

अब बात करते हैं कि FUP का उपयोग कहां होता है आपने देखा होगा कि शुरूआत में जब जियो आया था तब आपने देखा होगा कि उस समय जिओ आपको अनलिमिटेड डाटा देता था। जो कि खत्म नहीं होता था चाहे आप उसे कितना भी यूज कर ले लेकिन इससे बहुत सारी दिक्कतें थी उन दिक्कतों का समाधान FUP (fair use policy) है। इसकी मदद से जब तक आपका डेढ़ जीबी डाटा रहता है तब तक आप को हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा मिलती है उसके बाद आपके इंटरनेट की स्पीड बहुत ही धीमी कर दी जाती है जिससे जिन यूजर्स ने अपना डाटा खर्च नहीं किया है उन यूजर्स को इंटरनेट की हाई स्पीड स्पीड मिल सके और वह यूज़र बिना रुकावट के इंटरनेट सेवाएं ले सकें। इसे ही FUP (fair use policy) कहते हैं। तो मुझे उम्मीद है अब तक आप यह समझ चुके होंगे कि FUP क्या होता है अगर आप FUP क्या होता है यह समझ चुके हैं तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं क्योंकि आपका feedback हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण है। तो अपनी प्रतिक्रियाएं जरुर दें। अब हम बात करते हैं कि आपको इससे फायदे हैं या नुकसान!

Fair Use Policy के क्या है फायदे और नुकसान?

अगर हम FUP (fair use policy) के फायदों की बात करें तो इस पॉलिसी से आपको बहुत सारे फायदे हैं और इस पॉलिसी से आपको ही नहीं बल्कि आपके Service Provider को भी बहुत सारे फायदे हैं सोचिए अगर आपने अपने सिम कार्ड मैं Internet की सुविधाओं के लिए किसी प्लान से रिचार्ज कराया है तो आप उस सर्विस प्रोवाइडर से यह भी उम्मीद रखते हैं कि आपको बिना किसी परेशानी के सभी सुविधाओं का लाभ मिलेगा।

लेकिन जब तक यह fair use policy नहीं थी तब लोगों को बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता था क्योंकि एक ही सर्विस प्रोवाइडर से बहुत सारे users जुड़े हुए थे जिसके कारण सभी यूजर्स अच्छी तरह से सभी सुविधाओं का लाभ नहीं ले पाते थे और जिन ग्राहकों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था वह या तो उस सर्विस प्रोवाइडर की सर्विस को लेना बंद कर देते थे या फिर उस सर्विस प्रोवाइडर की छवि ग्राहकों के बीच खराब हो जाती थी जिसे देखते हुए Telecom authority of india ने यह फेयर यूज पॉलिसी लागू की जिससे सभी यूजर्स को पर्याप्त रूप से सभी सुविधाओं का अच्छी तरह से लाभ मिल सके।

जिससे इन सर्विस प्रोवाइडर कंपनियों की Service भी अच्छी हो गई क्योंकि एक साथ बहुत सारे लोग अच्छी इंटरनेट सुविधा से नहीं जुड़े होंगे अच्छी Internet सुविधा का इस्तेमाल वही लोग कर सकेंगे जिन्होंने अपने Daily इंटरनेट कोटा का पूरा इस्तेमाल नहीं किया होगा और ऐसे यूजर्स की इंटरनेट स्पीड कम कर दी जाती है जिन्होंने अपने daily इंटरनेट कोटा का पूरा इस्तेमाल कर लिया होता है जिससे बिना किसी बाधा के सभी यूजर्स अच्छी इंटरनेट Services का आनंद ले सकें।

तो अगर आप ऐसे user है जो कि डाटा का इस्तेमाल ज्यादा करते हैं तो इस पॉलिसी से आपको नुकसान है क्योंकि आपको उतना ही हाई स्पीड डाटा मिलेगा जितने का आपने प्लान प्लान चुना है और अगर आप ऐसे यूजर है जो कि इंटरनेट का इस्तेमाल कम करते हैं लेकिन आप अपने सर्विस प्रोवाइडर से यह उम्मीद रखते हैं कि आपको अच्छी और हाई स्पीड का इंटरनेट यूज करने को मिले तो आपके लिए यह बहुत ही अच्छी पॉलिसी है। 

Conclusion

तो दोस्तों आज हमने आपको बताया कि FUP (fair use policy) क्या होती है और इस पॉलिसी का उपयोग कहां होता है आपको इस पॉलिसी से क्या क्या फायदे और नुकसान है तो हमें उम्मीद है आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई होगी और आप भी फेयर यूज़ पॉलिसी के बारे में अच्छी तरह से जान गए होंगे अगर आपने यह आर्टिकल यहां तक पढ़ा है तो सबसे पहले आपका बहुत-बहुत धन्यवाद इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ जरूर साझा करें जोकि इसके बारे में जानना चाहते हैं और अगर आपका कोई सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं आपका सुझाव हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। और ऐसी ही जानकारियां को विस्तार से जानने के लिए जुड़े रहिए techyatri.com के साथ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles