HomeTECHNOLOGYशिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है?

शिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है?

दोस्तों आज हम जानने वाले है शिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है कोरोनाकाल में हम सब ने देखा की तकनीक किस प्रकार शिक्षा के लिए महत्वपूर्ण है और जब तकनीक में बदलाव आते है तो तकनीक और भी ज्यादा फायदेमंद हो जाती है और इसी तकनीक ने करोणाकाल में भी शिक्षा का तरीका एकदम से बदल दिया है नयी तकनीक ने शिक्षा को नए तस्वीर में हमारे सामने पेश किया है और हमारे भारत देश में टेक्नोलॉजी और शिक्षा का भविष्य काफी ज्यादा नजर आता है भारत में लोग ऑनलाइन शिक्षा की ओर काफी ज्यादा बढे है और सरकार भी ऑनलाइन शिक्षा को और ज्यादा बढ़ावा दे रही है आने वाले कुछ सालो में ऑनलाइन शिक्षा की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ने वाली है.

जैसे की हम सब जानते है की पिछले कुछ सालो में हमें शिक्षानीति में बहुत से बदलाव नजर आये है हमारी शिक्षानीति बदलते समय के अनुसार और ज्यादा अच्छी होती जा रही है जिसका कारन है शिक्षा में टेक्नोलॉजी का शामिल होना. हमारे देश का नाम बड़े देशो के साथ लिया जाता है जिसका कारन है हमारे देश की बढ़ती टेक्नोलॉजी तो आज हम जानेंगे की role of technology in education in hindi तो चलिए देखते हैं.

एजुकेशनल टेक्नोलॉजी क्या है (What Is Educational Technology)

एजुकेशनल टेक्नोलॉजी एक शब्द है जिसका उपयोग शिक्षण और सीखने-संबंधित सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की एक विस्तृत सरणी का वर्णन करने के लिए किया जाता है जो कॉलेज और विश्वविद्यालय के कक्षाओं में तेजी से उपयोग किया जा रहा है. एजुकेशनल टेक्नोलॉजी का लक्ष एक बेहतर शिक्षण वातावरण को सक्षम करना है जो बदले में छात्र परिणामों को बढ़ावा देने का काम करेगा. यह कक्षा में छात्र की व्यस्तता और भागीदारी को बढ़ाने के लिए भी सिद्ध हुआ है.

एजुकेशनल टेक्नोलॉजी का उपयोग करके शिक्षक डिजिटल इंटरएक्टिव पाठ्यपुस्तकें बना सकते हैं, पाठ पढ़ सकते हैं, उपस्थिति ले सकते हैं, होमवर्क कर सकते हैं, क्विज़ और परीक्षण कर सकते हैं और शिक्षण सामग्री, शैली और प्रारूप से संबंधित वास्तविक समय परिणाम प्राप्त कर सकते हैं. एजुकेशनल टेक्नोलॉजी शिक्षकों और छात्रों दोनों को एक ऐसे वातावरण में सीखने की क्षमता प्रदान करके पारंपरिक शिक्षा और शिक्षण विधियों को बाधित कर रही है जो अब सामान्य उपकरणों जैसे स्मार्टफोन, लैपटॉप और टैबलेट का उपयोग करती है

शिक्षा में टेक्नोलॉजी के लाभ

हर शिक्षक अपने छात्र के प्रदर्शन में सुधार करना चाहते हैं, और टेक्नोलॉजी उन्हें इस उद्देश्य को पूरा करने में मदद कर सकती है टेक्नोलॉजी को शिक्षा में लाने से शिक्षक का काम कम हो सकता है, शिक्षा क्षेत्र में कुछ नया और आधुनिक करने से छात्र का शिक्षा के प्रति उत्साह बढ़ सकता है इसके अतिरिक्त, कक्षा में टेक्नॉलजी को अपने दिन के लिए अतिरिक्त समय जोड़े बिना शिक्षक अपने काम को आसान बना सकते है.

टेक्नॉलजी छात्रों को जो चाहिए वह जानकारी आसानी से उपलब्ध करा कर दे सकती है इसके आलावा जिस किसी प्रकार का शिक्षण छात्र ले रहा है उस शिक्षण को टेक्नोलॉजी की मदत से और भी मजेदार बनाया जा सकता है यह छात्रों को नए विषयों का पता लगाने और विशेष रूप से एसटीईएम में कठिन अवधारणाओं की उनकी समझ को गहरा करने में सक्षम बनाता है कक्षा के अंदर और बाहर टेक्नोलॉजी के उपयोग के माध्यम से, छात्र भविष्य के व्यवसायों के लिए आवश्यक २१ वीं सदी के तकनीकी कौशल प्राप्त कर सकते हैं.

काफी सारे छात्र टेक्नोलॉजी और टेक्नोलॉजी के माध्यम से सीखना पसंद करते है वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की रिपोर्ट है कि प्रौद्योगिकी युवा छात्रों को खेल के माध्यम से सीखने और ज्ञान प्राप्त करने में मदद कर सकती है, इस विघटनकारी समय के दौरान सीखे गए सबक से, वे भविष्य के लिए अब समाधान लागू कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, प्रशासक शिक्षकों को एक या दो सप्ताह का समय दे सकते हैं कि वे इस बारे में सावधानी से सोचें कि पाठ्यक्रम को ऑनलाइन कैसे पढ़ाया जाए.

नीचे दिए गए उदाहरण हैं कि शिक्षा में टेक्नोलॉजी कितनी महत्वपूर्ण है और इसका लाभ छात्रों और शिक्षकों को किस प्रकार मिलता है.

सहयोग और संचार में वृद्धि (Increased Collaboration and Communication)

Educational technology सहयोग को बढ़ावा दे सकती है न केवल शिक्षक पाठ के दौरान छात्रों के साथ जुड़ सकते हैं, बल्कि छात्र एक दूसरे के साथ संवाद भी कर सकते हैं सभी छात्र एक साथ जुड़ सकते है और किसी के भी समस्या का हल आसानी से हसते हुए निकाल सकते है सहयोगी गतिविधियों में, छात्र अपने विचारों को Share कर सकते हैं और एक दूसरे का समर्थन कर सकते हैं. इसी के साथ सभी छात्र अपने समस्याओ का समाधान अपने शिक्षक के एक-एक करके प्राप्त कर सकते है. छात्र कक्षा से संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं और कठिन विषय को समझने में इंटरनेट मदद ले सकते हैं. घर पर, छात्र अपना होमवर्क अपलोड कर सकते हैं, और शिक्षक अपने लैपटॉप का उपयोग करके उस होमवर्क को चेक कर सकते है.

व्यक्तिगत सीखने के अवसर (Personalized Learning Opportunities)

लैपटॉप या मोबाइल डिवाइस के उपयोग से कक्षाएं पूरी तरह से ऑनलाइन हो सकती हैं सीखने के हाइब्रिड संस्करण नियमित रूप से इन-व्यक्ति कक्षा सत्रों के साथ कहीं से भी प्रौद्योगिकी के उपयोग को जोड़ते हैं. शिक्षा में टेक्नोलॉजी से छात्र का शिक्षा के प्रति लगाव बढ़ेगा और वह अपने लैपटॉप या कंप्यूटर से नयी-नयी चीजे सीखेगा. एक अतिरिक्त लाभ यह है कि छात्र अपनी गति से सीख सकते हैं. अगर उन्हें किसी भी विषय में समस्या आती है तो छात्र अपने शिक्षक के साथ विडिओ कॉल की माध्यम से जुड़ सकता है और अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकता है. इन ऑनलाइन क्लास के चलते शिक्षक यह समझ सकते है की उनका छात्र किस विषय में कमजोर है और उसे कैसे पढ़ाया जाए. शिक्षक उसे मार्गदर्शन कर लैपटॉप या कंप्यूटर से पढ़ा सकते है.

बेहतर शिक्षक उत्पादकता और क्षमता (Improved Teacher Productivity and Efficiency)

शिक्षक उत्पादकता के नए स्तरों को प्राप्त करने, छात्रों के लिए सीखने के अवसरों का विस्तार करने और छात्र सहायता और सगाई बढ़ाने के लिए उपयोगी डिजिटल उपकरणों को लागू करने के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठा सकते हैं. यह शिक्षकों को उनकी शिक्षा के तरीकों को सुधारने और सीखने को व्यक्तिगत बनाने में भी सक्षम बनाता है. स्कूल भौतिक शिक्षण सामग्री की लागत को कम करके, शैक्षिक कार्यक्रम दक्षता बढ़ाने और शिक्षक समय का सबसे अच्छा उपयोग करके टेक्नोलॉजी से लाभ उठा सकते हैं.

टेक्नोलॉजी ज्ञान प्रतिधारण दरों को बढ़ाती है (Technology increases knowledge retention rates)

एक घंटे के बाद, लोग उन्हें प्रस्तुत की गई जानकारी का केवल आधा हिस्सा बनाए रखते हैं, एक दिन के बाद, वे जो कुछ भी सीखते हैं उसका 70% भूल जाते हैं, तेचणलोग्य इस परिदृश्य को बेहतर बनाने में मदद करती है. ऐसा इसलिए है क्योंकि दृश्य जानकारी मस्तिष्क द्वारा जल्दी से पकड़ ली जाती है और बेहतर तरीके से संसाधित होती है. शिक्षा में टेक्नोलॉजी का उपयोग करना जैसे कि Gamification, Mobile Learning, microlearning, VR based Learning, इत्यादि छात्र की व्यस्तता को बढ़ाते हैं और ज्ञान प्रतिधारण में मदद करते हैं.

शिक्षा में टेक्नोलॉजी का महत्व FAQ’s

शिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है?

आज के समय में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिये टेक्नोलॉजी बहुत जरुरी है कक्षाओं में डिजिटल लर्निंग टूल का प्रभावी उपयोग छात्र की व्यस्तता को बढ़ा सकता है और शिक्षकों को उनकी पाठ योजनाओं को बेहतर बनाने और व्यक्तिगत सीखने की सुविधा प्रदान करने में मदद कर सकता है। यह छात्रों को 21 वीं सदी के आवश्यक कौशल बनाने में भी मदद करता है .

तकनीकी शिक्षा क्या है?
- Advertisement -

तकनीकी शिक्षा यह शिक्षा का ही एक हिस्सा है , तकनीकी शिक्षा तकनीकी का अध्ययन है, जिसमें छात्र “तकनीकी से संबंधित प्रक्रियाओं और ज्ञान के बारे में सीखते हैं” .

तकनीकी शिक्षा के क्या लाभ है?

तकनीकी शिक्षा यह सामान्य शिक्षा से अलग है और इसका सबसे बड़ा लाभ यह है की तकनीकी शिक्षा स्वतंत्र और आत्म सीखने को बढ़ावा देती है और यह छात्र को प्रभावी ढंग से ट्यून करती है और छात्रों की क्षमता को बढ़ाती है .

एजुकेशनल टेक्नोलॉजी क्या है?

एजुकेशनल टेक्नोलॉजी एक शब्द है जिसका उपयोग शिक्षण और सीखने-संबंधित सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की एक विस्तृत सरणी का वर्णन करने के लिए किया जाता है जो कॉलेज और विश्वविद्यालय के कक्षाओं में तेजी से उपयोग किया जा रहा है .

अंतिम शब्द

तो दोस्तों यह था शिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है. में आशा करता हु की आप समझ गए होंगे की शिक्षा में टेक्नोलॉजी कितनी महत्वपूर्ण है और में उम्मीद करता हु की आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा. अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और साथ ही वेबसाइट के नोटिफिकेशन बेल को भी ऑन कर दे ताकि आने वाले समय में आप कोई भी आर्टिकल मिस ना करे क्योकि हम ऐसे ही हेल्पफुल आर्टिकल आपके लिए रोजाना लाते रहते है. अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है हम जरूर आपके सवाल का जवाब देनी की कोशिश करेंगे धन्यवाद.

जरूर पढ़े –

- Advertisement -
Raj d Rajputhttps://techyatri.com/
Raj d Rajput is the Author & Co-Founder of the TechYatri.com. He has also completed his graduation in Computer Science from Pune (mahatrashtra) . He is passionate about Blogging & Digital Marketing

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े