HomeINTERNETलॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका | Role of social media in...

लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका | Role of social media in lockdown

लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका : एक जमाना था जब न्यूज़ सिर्फ TV या अख़बार में देखने को मिलती थी लेकिन टेक्नोलॉजी में हुए तेज विकास के कारण सोशल मीडिया जैसे माध्यम विकसित हुए जो की लोगों के बिच में काफी ज्यादा प्रसिद्ध है . आज , इंस्टाग्राम , फेसबुक , ट्विटर सूचना (information) के प्राथमिक स्रोत बन गए हैं . सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम है जिसपर आम व्यक्ति भी अपनी बात समाज के सामने रख सकता है जो की एक बहुत अच्छी बात है लेकिन Fake News फ़ैलाने के लिए भी सोशल मीडिया काफी ज्यादा बदनाम है .

कोविड -19 महामारी के चलते Lockdown की स्थितियां बन रही है . इस कोरोना लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका क्या रही है और आगे भी लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका क्या रहेगी इसके बारे में हम आज के इस आर्टिकल में बात करने वाले है क्योंकि Lockdown में सोशल मीडिया की अच्छी भूमिका भी रही है और इसके दुष्परिणाम भी हमे देखने को मिले है .

लॉकडाउन के दौरान सोशल मीडिया की भूमिका क्या है?

सोशल मीडिया का इस्तेमाल लोग आजकल हर हाल में इस्तेमाल कर ही लेते है चाहे lockdown हो या ना हो लेकिन साधारण दिनों के मुकाबले सोशल मीडिया की भूमिका हमे थोड़ी अलग देखने को मिलती है. कोरोना संकट काल में पुरे देश में लॉकडाउन करना पड़ा और सभी लोगों को अपने घरों में बंद होना पड़ा और इस लॉकडाउन का काफी लोगों पर बुरा असर भी हुआ , मानसिक तनाव जैसी समस्याएं लोगों में होने लगी और मानसिक तनाव के कारण ही सोशल मीडिया पर काफी Fake News और अजीब अजीब घटनाएं देखने को मिली है हालाँकि लॉकडाउन में सोशल मीडिया की सकारात्मक भूमिकाये भी हमे देखने को मिली है .

इस डिजिटल युग में अपनी बात समाज तक पोहोचाने के लिए सोशल मीडिया एक बहुत बढ़िया साधन है और सोशल मीडिया की यही मुख्य भूमिका भी है लेकिन lockdown के चलते परिस्थितियां बिलकुल बदल सी गयी है .

जैसा की हमने आपको बताया की लॉकडाउन में सोशल मीडिया की सकारात्मक और नकारात्मक दोनों भी भूमिकाएं रही है तो चलिए विस्तार से जानते है लॉकडाउन के प्रभाव के कारण सोशल मीडिया की क्या भूमिका रही है .

लॉकडाउन में सोशल मीडिया की सकारात्मक भूमिकाएं

Lockdown कई लोगों ने सोशल मीडिया का काफी सकारात्मक तरीके से उपयोग किया है इसलिए सबसे पहले जानते है लॉकडाउन में सोशल मीडिया की सकारात्मक भूमिकाओं के बारे में .

व्यवसायों के लिए सोशल मीडिया का बड़ा योगदान

Lockdown के कारण लगबघ सभी कम्पनियां फ़िलहाल बंद पड़ी है लेकिन इस लॉकडाउन में भी कई कंपनियां सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर लोगों से कनेक्ट हो रही है और अपना प्रोडक्ट और सर्विसेस बेच रही है यह सब सोशल मीडिया के कारण ही संभव है क्योंकि सोशल मीडिया एक बहुत बड़ा ऑनलाइन प्लेटफार्म है जिसे रोजाना करोड़ों लोग यूज़ करते है .

महामारी से लड़ने में मदद

कोरोना जैसी महामारी से लड़ने में भी सोशल मीडिया की भूमिका हमे देखने को मिलती है , कई लोग और संस्थाएं सोशल मीडिया के माध्यम से इस महामारी से लड़ने और बचने के लिए सकारात्मक प्रयास कर रहे है और इतना ही नहीं सोशल मीडिया के कारण कोरोना से लड़ रहे कई मरीजों के प्राण भी बच गए है .

सोशल मीडिया बना संचार का मुख्य माध्यम

Lockdown के कारण सभी लोग अपने घरों में बंद है और कोरोना का संक्रमण देख सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना पड़ रहा है लेकिन इस नकारात्मक स्थिति में भी सोशल मीडिया बहुत बढ़ीया भूमिका निभा रहा है . लोग सोशल मीडिया की सहायता से अपने दूर रहने वाले परिजनों तथा मित्रों से संपर्क कर रहे है . सोशल डिस्टेंसिंग ने इंसान को एक दूसरे से जितना दूर किया है उतना ही सोशल मीडिया ने इंसानों को जोड़ने का काम किया है .

व्यवसाय के अवसर प्राप्त हुए

लॉकडाउन की वजह से कई लोगों की जॉब्स चली गयी लेकिन सोशल मीडिया ने लोगों के लिए नयी नयी Business Opportunity ढूंढने में काफी अच्छी भूमिका इस Lockdown में निभाई है , जैसा की आपको पता है होगा की सोशल मीडिया कितना बड़ा online marketplace है .

लॉकडाउन में सोशल मीडिया की नकारात्मक भूमिकाएं

सोशल मीडिया जितना अच्छा है उतना बुरा भी है ! वास्तव में सोशल मीडिया बुरा नहीं है जो लोग इसका गलत इस्तेमाल करते है वो बुरे है . lockdown हो या न हो लेकिन सोशल मीडिया का नकारात्मक पक्ष हमेशा रहता है क्योंकि इस समाज में सभी लोग अच्छी सोच वाले नहीं होते है और लॉकडाउन में भी सोशल मीडिया की नकारात्मक भूमिकाएं हमे देखने को मिलती है .

फेक न्यूज का माध्यम बना सोशल मीडिया

Fake News जिसके लिए सोशल मीडिया हमेशा से ही बदनाम है और Lockdown में भी सोशल मीडिया का इस्तेमाल Fake News फ़ैलाने के लिए किया जाने लगा है . आम दिनों के मुकाबले Lockdown में सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ की संख्या काफी ज्यादा बढ़ गयी है .

सोशल मीडिया से मानसिक तनाव

लॉकडाउन की वजह से सोशल मीडिया users की संख्या काफी बढ़ गयी है, नए नए लोग सोशल मीडिया से जुड़ रहे है और घरों में बंद होने के कारण लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल बहुत ज्यादा कर रहे है इसलिए लोग मानसिक तनाव के शिकार हो रहे है . ज्यादा समय तक सोशल मीडिया यूज़ करने से लोगों की सेहत पर भी पूरा असर पढ़ रहा है .

अंतिम शब्द

- Advertisement -

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने देखा लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका (Role of social media in lockdown) अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और अगर आपको ‘लॉकडाउन में सोशल मीडिया की भूमिका’ इस विषय पर अपने विचार रखना चाहते है तो आप कमेंट कर सकते है .

अन्य पढ़े –

- Advertisement -
Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is the Author & Founder of TechYatri.com . He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े