HomeCOMPUTERएटीएम (Automated Teller Machine) क्या है ?

एटीएम (Automated Teller Machine) क्या है ?

ATM ग्राहकों के लिए बैंकों से पैसे नीकालने का एक सरल मार्ग है इसी हेतु इस मशीन का निर्माण किया गया है. लंदन और न्यूयॉर्क में सबसे पहले इससे प्रयोग में लाए जाने के उल्लेख मिलते हैं. जैसा की हम सब जानते है इंडिया में ज्यादा से ज्यादा काम ऑनलाइन तरीके से किये जाते है और सभी भारतवासी धीरे-धीरे नयी टेक्नोलॉजी को अपना रहे है. ATM भी उन्ही टेक्नोलॉजी में से एक है !

भारत देश में रहने वाले कई सारे लोग ATM का इस्तेमाल कर रहे है लेकिन कई सारे लोगो को अभी तक पता भी नहीं है की ATM क्या होता है और इसका इस्तेमाल कैसे करते है. तो आज का यह आर्टिकल उन लोगो के लिए है जिन्हे ATM के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है. आज के इस आर्टिकल में हम आपको ATM से जुडी सभी जानकारी स्टेप बाय स्टेप देने वाले है तो इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े !

ATM (एटीएम) क्या है ?

ATM एक ऐसा दूरसंचार नियंत्रित व कंप्यूटरीकृत मशीन है जो लोगो को वित्तीय हस्तांतरण से जुड़ी सेवाएं उपलब्ध कराता है. यानि की इस प्रक्रिया में लोगो को कैशियर, क्लर्क या बैंक टैलर की मदद की आवश्यकता नहीं होती है वे खुद ATM मशीन के जरिये अपने बैंक अकाउंट से पैसे निकाल सकते है. जिसके लिए आपको बस ATM card की जरूरत पड़ती है. और जिस मशीन से आप पैसे निकालते है उसी को ATM कहा जाता है !

आपको ATM मशीन से पैसे नीकालने के लिए ATM card की जरूरत होती है. हर एक ATM card के लिए अलग-अलग पिन होता है आपको कार्ड मशीन के अंदर डालने के बाद उस कार्ड का पिन डालना होता है. तभी आप ATM मशीन से पैसे निकाल सकते है. अगर आप ३ से ज्यादा बार गलत पिन डालते है तो आपका ATM card ब्लॉक हो सकता है .

इन्हें भी जरूर पढ़ें –
> Motherboard क्या है – मदरबोर्ड की पूरी जानकारी हिंदी में
> सर्वर क्या है और सर्वर के प्रकार
> मोबाइल सिम कार्ड लॉक क्या है
> क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है ?
> Google people कार्ड क्या है – गूगल सर्च में अपना नाम लाए !

ATM का फुल फॉर्म क्या है

आप में से बहुत से लोग एटीएम का इस्तेमाल तो करते है लेकिन बहुत से लोगो को यह पता नहीं होता की एटीएम का फूल फॉर्म क्या होता है. दोस्तों अंग्रेजी और हिंदी दोनों भाषाओ में ATM Full form अलग-अलग होता है. अगर आपको नहीं पता तो बता दे की अंग्रेजी में ATM का फुल फॉर्म होता है “Automated teller machine“. और अगर हम बात करे हिंदी भाषा की तो हिंदी भाषा में ATM का फुल फॉर्म होता है “स्वचालित गणक मशीन” !

ATM का क्या अर्थ है (ATM Meaning)

एक स्वचालित टेलर मशीन (ATM) एक इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग आउटलेट है जो ग्राहकों को शाखा प्रतिनिधि या टेलर की सहायता के बिना बुनियादी लेनदेन को पूरा करने की अनुमति देता है क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड वाला कोई भी व्यक्ति अधिकांश एटीएम में नकदी निकल सकता है !

ATM card क्या है ?

ATM कार्ड का मतलब होता है पेमेंट card जिसका इस्तेमाल ATM (Automated teller machine) से पैसे नीकालने के लिए किया जाता है. जब हम बैंक में अपना खाता खुलवाते है तभी हमें ATM card दिया जाता है. ATM card का इस्तेमाल आप ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए भी कर सकते है. यह सभी तरह के ऑनलाइन भुगतान करने की अनुमति देता है !

ATM से पैसे कैसे निकाले

दोस्तों अभी हमने जाना की ATM क्या है ? उम्मीद है आप समझ गए होंगे. तो चलिए अब जानते है की ATM कैसे इस्तेमाल करते है हमने आपको निचे ATM USE करने के स्टेप्स बताये है उन्हें फॉलो करे.उन स्टेप्स की मदत से आप अपने ATM से पैसे निकाल सकते है !

Step 1- ATM से पैसे नीकालने के लिए सबसे पहले आपको किसी भी बैंक के ATM में जाना है. ATM में जाने के बाद आपको गोल्डन चिप की तरफ से अपने कार्ड को उस स्लॉट में डालना है.

Step 2- उसके ५ से ६ सेकंड बाद आपको भाषा चयन का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उनमे से एक भाषा को चुनना है.

Step 3- भाषा का चयन करने के बाद आपके सामने अकाउंट का टाइप सिलेक्ट करने का ऑप्शन आ जायेगा यानि की आपका अकाउंट किस टाइप का है current या saving.

Step 4- टाइप सिलेक्ट करने के बाद आपको अपने ATM कार्ड का पिन डालना है (पिन डालते समय यह जरूर देखे की आपके आसपास कोई है या नहीं अपने ATM का Pin किसी के भी साथ share ना करे)

Step 5- Pin एंटर करने के बाद आपके सामने अमाउंट डालने का ऑप्शन आ जायेगा आप जितने पैसे निकालना चाहते है उतना अमाउंट आपको वहा पर डाल देना है.

- Advertisement -

Step 6- उसके बाद आपसे पूछा जायेगा की क्या आप इस ट्रांजेक्शन की receipt चाहते है आपको yes पर क्लिक करना है जैसे ही आप क्लिक करोगे आपके पैसे निकल आएंगे.

टिप – हर बैंक के ATM की process अलग-अलग होती है इसी लिए इसमें से कुछ स्टेप्स ऊपर-निचे हो सकते है.

ATM की जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए इन चीजों का ध्यान रखे

  • मशीन से प्राप्त रसीद को अपने पास जरूर रखें और इसका मिलाव अपने अपने बैंक स्टेटमेंट से अवश्य करें.
  • पिन डालते समय कीपैड को अपने दूसरे हाथ से छुपाए रखें.
  • अगर आप बड़ी रक्कम निकालने जा रहे है तो सुरक्षित स्थल वाले ATM में जाये.
  • अगर आपके साथ ATM में दूसरा व्यक्ति भी है तो उसके सामने Pin न डाले.
  • अपना ATM Pin किसी भी व्यक्ति के साथ share न करे.
  • अपने फोन नम्बर, घर के पते, नाम या संकेताक्षरों आदि पर अपना पिन नम्बर न रखें

ATM कैसे काम करता है ?

ATM (Automated teller machine) के सिंपल से data terminal है जिसमे जिसमे दो input और चार output devices का समावेश होता तो चलिए जानते है की input और output devices कौनसे है.

ATM input devices

  • Card Reader
  • keypad

ATM output devices

  • Speaker
  • Display Screen
  • Receipt Printer
  • Cash Dispenser

इंटरनेट सेवा प्रदाता (ISP) एटीएम में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. यह ATM और होस्ट प्रोसेसर के बीच संचार प्रदान करता है जब लेन-देन किया जाता है, तो transaction cardholder द्वारा इनपुट किया जाता है. यह जानकारी एटीएम द्वारा होस्ट प्रोसेसर को दी जाती है. होस्ट प्रोसेसर अधिकृत बैंक के साथ इन transaction की जांच करता है जब transaction matched किया जाता है, तो Host प्रोसेसर मशीन को अनुमोदन कोड भेजता है ताकि नकदी को स्थानांतरित किया जा सके !

ATM इस्तेमाल करने के फायदे

  • ATM का इस्तेमाल करके आप तुरंत १ से २ मिनट के अंदर पैसे प्राप्त कर सकते है.
  • ATM से पैसे निकलने के लिए आपको बैंक की तरह किसी भी प्रकार का फॉर्म नहीं भरना होता आप सिर्फ कार्ड की मदत से पैसे निकल सकते है.
  • ATM card की मदत से आप ऑनलाइन शॉपिंग या किसी भी चीज के बिल का भुगतान कर सकते है.
  • ATM का इस्तेमाल आप २४ घंटे कर सकते है आपको जब टाइम मिले तब आप ATM से पैसे निकल सकते है.
  • बैंक की तुलना में ATM से पैसे निकालने के लिए काफी कम समय लगता है जिससे की आपके समय की बचत होती है.

conclusion

आज आपने सीखा की ATM क्या है और ATM से पैसे कैसे निकालते है. आशा करते है की आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा. अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और साथ ही वेबसाइट के नोटिफिकेशन बेल को भी ऑन कर दे ताकि आने वाले समय में आप कोई भी आर्टिकल मिस ना करे. क्योकि हम ऐसे ही हेल्पफुल आर्टिकल आपके लिए लाते रहते है. अगर आपको इस आर्टिकल से जुडी कोई भी समस्या हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है !

- Advertisement -
Raj d Rajputhttps://techyatri.com/
Raj d Rajput is the Author & Co-Founder of the TechYatri.com. He has also completed his graduation in Computer Science from Pune (mahatrashtra) . He is passionate about Blogging & Digital Marketing

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े