HomeCOMPUTERसाइबर सुरक्षा क्या है | Cyber Security In Hindi

साइबर सुरक्षा क्या है | Cyber Security In Hindi

Cyber Security (साइबर सुरक्षा) क्या है : इस आधुनिक युग में पूरी दुनिया इंटरनेट के माध्यम से आपस में जुडी हुई है ऐसे में आपने साइबर अपराध की कई सारी घटनाओं के बारे और साइबर सुरक्षा के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप जानते है की साइबर सुरक्षा क्या है और यह आज के समय में क्यों जरुरी है ? अगर आप साइबर सिक्योरिटी के बारे में जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पूरा जरूर पढ़ें क्योंकि इसमें हम Cyber Security के बारे में पूरी जानकारी जानने वाले है Hindi में .

अभी के समय में साइबर सिक्योरिटी काफी ज्यादा जरुरी चीज है क्योंकि आजकल इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का यूज़ बहुत ज्यादा बढ़ चूका है और Users अपना पर्सनल डाटा अपने कई तरह के Devices , Softwares और अलग अलग Networks के माध्यम से शेयर करते है जो की सिक्योर ही होगा उसकी कोई गारंटी नहीं होती है .

चलिए विस्तार से समझते है Cyber Security In Hindi

विषय - सूची

साइबर सुरक्षा क्या है (Cyber Security In Hindi)

साइबर सुरक्षा जिसे कंप्यूटर सुरक्षा या इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी सुरक्षा भी कहा जाता है यह डाटा , कम्प्यूटर्स , नटवर्क और सॉफ्टवेयर को साइबर आक्रमण से दूर रखने का एक तरीका है . साइबर सुरक्षा में कंप्यूटर और नेटवर्क में उपलब्ध किसी भी प्रकार की सूचनाओं और डाटा को सुरक्षित और गोपनीय रखने का अभ्यास किया जाता है . यह सॉफ़्टवेयर या इलेक्ट्रॉनिक डेटा की चोरी या क्षति के साथ-साथ उनके द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं के विघटन या गलत पहचान से कंप्यूटर सिस्टम और नेटवर्क की सुरक्षा है .

Cyber Security का अर्थ इंटरनेट पर सुरक्षा से है जब आप इंटरनेट यूज़ करते है या इंटरनेट से जुड़े होते है तब कई प्रकार का खतरा आप पर बना रहता है क्योंकि हैकर्स काफी सारे अलग अलग तरीकों से साइबर सुरक्षा का उल्लंघन करके आपके सिस्टम तक पहुँच सकते है और आपके पर्सनल डाटा का गलत इस्तेमाल कर सकते है इसी खतरे को रोकने के लिए Cyber Security यानि साइबर सुरक्षा का उपयोग किया जाता है .

साइबर सिक्योरिटी का काम इंटरनेट नेटवर्क से जुडी Devices , Softwares और Data और नेटवर्क को सुरक्षा प्रदान करना होता है Cyber Security में आपके Network , Devices , Softwares और Data को सुरक्षित परतों द्वारा सुरक्षित किया जाता है जिससे इंटरनेट पर होने वाली गलत गतिविधियों से आपका Data सुरक्षित रखा जाता है .

साइबर सुरक्षा की परिभाषा (Cyber Security Definition In Hindi)

Cyber Security यह इंटरनेट से जुड़े सिस्टम्स के लिए एक सुरक्षा होती है जो Devices , Hardwares , Softwares और Data को साइबर अपराध से बचाने का काम करती है , आसान शब्दों में साइबर सुरक्षा सिस्टम, नेटवर्क और प्रोग्राम्स को डिजिटल हमलों से बचाने और रक्षा करने का अभ्यास है .

साइबर सुरक्षा के प्रकार (Types Of Cyber Security In Hindi)

साइबर सुरक्षा डिजिटल हमलों से कंप्यूटर, सर्वर, मोबाइल डिवाइस, इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम, नेटवर्क और डेटा का बचाव करने का एक अभ्यास है , साइबर सुरक्षा को Information Security /Information Technology Security तथा इलेक्ट्रॉनिक इन्फॉर्मेशन सिक्योरिटी भी कहा जाता है .

साइबर सुरक्षा में डाटा सुरक्षित रखने के लिए अलग अलग तत्वों (elements) का समावेश होता है , साइबर में सुरक्षा अलग अलग परतों द्वारा नेटवर्क को अधिक से अधिक सुरक्षा प्रदान की जाती है .

Cyber Security एक काफी महत्वपूर्ण विषय है जिसके निम्नलिखित प्रकार (Types) होते है.

नेटवर्क सुरक्षा (Network security)

इसमें नेटवर्क की Incoming और Outgoing ट्रैफिक मतलब नेटवर्क से आने जाने वाली ट्रैफिक को कंट्रोल तथा मैनेज किया जाता है जिसमे नेटवर्क में आने वाले Attacks और Threats को रोका जाता है इस सुरक्षा को आप नेटवर्क की पहली परत भी कह सकते है .

एप्लीकेशन सुरक्षा (Application Security)

इसमें सॉफ्टवेयर और Devices को Threats से बचाने अभ्यास किया जाता है , जितनी भी ऍप्लिकेशन्स है जो नेटवर्क में इस्तेमाल होती है उनके development और installation Phase को ध्यान में रखा जाता है .

Application Security में Applicationns को डेवलपमेंट के दौरान उनकी सुरक्षा को लेकर विशेष ध्यान रखा जाता है और इंस्टालेशन के दौरान भी इस चीज का विशेष ध्यान रखा जाता है .

सूचना सुरक्षा (Information Security)

Information Security इस साइबर सुरक्षा के प्रकार में डाटा को सुरक्षित रखना और उसे डिजिटल हमलों से बचाना यह मुख्य उद्देश्य होता है Data चाहे वह स्टोर डाटा हो या प्रवाहित दोनों को सुरक्षित रखा जाता है .

ईमेल सुरक्षा (Email Security)

ईमेल को सुरक्षित रखने के लिए और ईमेल से होने वाले अटैक्स से बचने के लिए कई प्रकार के Email Security Devices तथा Softwares का इस्तेमाल किया जाता है .

नेटवर्क एक्सेस कंट्रोल (Network Access Control)

यह किसी भी यूजर को नेटवर्क से जुड़ते समय की काफी सुरक्षित प्रक्रिया होती है जिसमे Users के Roles के अनुसार नेटवर्क में जुड़ने के लिए पॉलिसी बना दी जाती है जिस कारण कोई भी अन्य यूजर नेटवर्क से नहीं जुड़ सकता क्योंकि यहाँ पर नेटवर्क से जुड़ने के अधिकारों को सिमित कर दिया जाता है .

डाटा लॉस प्रिवेंशन (Data Loss Prevention)

इस प्रक्रिया में डाटा को सुरक्षित रखा जाता है और एनकोड किया जाता है जिससे किसी भी प्रकार से डाटा चोरी या लीक ना हो पाएं .

साइबर हमलों के प्रकार (Types Of Cyber Attacks In Hindi)

दुनिया में जितने भी साइबर हमले होते है वे सब अलग अलग प्रकार से किये जाते है बदलती टेक्नोलॉजी के साथ साथ साइबर हमलों के भी नए नए प्रकार सामने आ रहे है .

मालवेयर (Malware)

मालवेयर अटैक साइबर हमलों का सबसे कॉमन प्रकारों में से एक है . Malicious (विद्वेषपूर्ण) सॉफ्टवेयर को मालवेयर कहा जाता है .

Malware यह हैकर्स या साइबर अपराधियों द्वारा बनाया हुआ एक खतरनाक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम होता है जो अन्य Users को परेशान करने और उनकी सिस्टम्स को खराब (damage) करने हेतुं बनाया गया होता है .

Malware के भी कई प्रकार के होते हैं –

  • वायरस
  • ट्रोजन्स
  • स्पाई-वेयर
  • रैनसमवेयर
  • एडवेयर
  • बॉटनेट्स

एस क्यू एल इंजेक्शन (SQL Injection)

SQL (structured language query) injection यह यह साइबर हमले का एक प्रकार है जिसमे साइबर अपराधी यूजर के के डाटा को डेटाबेस से चुराता है तथा उसे नियंत्रित करता है .

यूजर के डेटाबेस में कमजोरिया ढूंढकर साइबर अपराधी कुछ विद्वेषपूर्ण SQL queries और कोड के माध्यम से यूजर के डटबसे तक पोहोंच जाते है और उसे चुरा लेते है तथा नियंत्रित करते है .

फिशिंग (Phishing)

Phishing यह साइबर हमले का एक प्रकार है जिसमे साइबर अपराधी यूजर को Fake Email या Fake SMS के जरिये एक फर्जी लिंक भेजता है जिससे यूजर की पर्सनल डिटेल्स को चुराया जाता है जैसे Login ID और Password , Credit Card / Debit Card की डिटेल्स .

मैन-इन-दी-मिडिल अटैक (Man-in-the-middle attack)

यह साइबर हमले का एक ऐसा प्रकार है जिसमे कोई दो लोगों के कम्युनिकेशन के बिच में साइबर अपराधी नेटवर्क के साथ छेड़छाड़ करके कम्युनिकेशन का एक्सेस ले लेते है और उसे कम्युनिकेशन करते है , इस साइबर हमले से अटैकर्स Users के बिच में चल रहे कम्युनिकेशन को एक्सेस कर लेते है जिसकी यूजर को कोई जानकारी भी नहीं होती है .

डेनियल-ऑफ़-सर्विस अटैक (Denial-of-service attack)

इस साइबर हमले में साइबर अपराधियों द्वारा किसी यूजर या संस्था के सिस्टम और नेटवर्क को कार्य करने से रोका जाता है . Denial-of-service attack इस साइबर हमले में साइबर क्रिमिनल एक कंप्यूटर सिस्टम को ट्रैफिक के साथ नेटवर्क और सर्वर को भारी करके वैध अनुरोधों को पूरा करने से रोकते हैं इस हमले से साइबर अपराधी सिस्टम को अनुपयोगी बना सकते है और किसी संगठन या किसी व्यक्ति के महत्वपूर्ण कार्यों को रोक सकते है .

जीरो डे (Zero-Day)

यह साइबर हमले का एक ऐसा प्रकार है जिसमे किसी सिस्टम के सॉफ्टवेयर में Loopholes को ढूंढ कर उन्हें निशाना बनाया जाता है इस अटैक में सॉफ्टवेयर को निशाना बनाकर साइबर अपराधियों द्वारा उस सॉफ्टवेयर के साथ छेड़छाड़ की जाती है .

दोस्तों साइबर हमलों के इसके अलावा भी कई सारे प्रकार है क्योंकि साइबर अपराधी नए नए तरीके और तकनीकें ढूंढते ही रहते है और दुनिया में कई सारे ऐसे साइबर हमलों की तकनीकें है जो अभी तक दुनिया के सामने नहीं आयी है जो आने वाले समय में शायद ही हमे पता चलें .

साइबर सिक्योरिटी क्यों जरुरी है (Why Cyber Security Is Important)

आजकल काफी ज्यादा मात्रा में लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते है और अपना पर्सनल डाटा भी इंटरनेट के माध्यम से शेयर करते है जबकि यह इंटरनेट पूरी तरीके से सुरक्षित नहीं है इंटरनेट की इस दुनिया में यूजर की एक लापरवाही से उसकी निजी जानकारिया और डाटा खतरे में पड़ सकता है .

आजकल सरकार, मिल्टरी, कॉर्पोरेट, फाइनेंशियल और मेडिकल जैसी संस्थाएं भी इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का काफी ज्यादा यूज़ करती है और इन सभी संथाओं का डाटा काफी संवेदनशील होता है जिस कारण उन्हें अपने डाटा को साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों द्वारा सुरक्षित रखना पड़ता है .

साइबर सिक्योरिटी की मदत से इंटरनेट और सिस्टम्स पर मौजूद सभी डाटा को सुरक्षित रखा जा सकता है और उसे चोरी होने से भी बचाया जा सकता है .

दिन प्रतिदिन डिजिटल डाटा बढ़ता ही चला जा रहा है और जैसे डिजिटल डाटा बढ़ रहा है वैसे उसके सुरक्षा को लेकर भी समस्याएं बढ़ रही है इसलिए डाटा को सुरक्षित रखने के लिए साइबर सुरक्षा के उत्पादों और सर्विसों की जरुरत पड़ती ही है .

साइबर हमले से खुद को कैसे बचाएं ?

दोस्तों जैसा की हमे पता है की आजकल इंटरनेट और टेक्नोलॉजी का यूज़ काफी ज्यादा बढ़ चूका है इसलिए साइबर हमले के मामले भी दिन प्रतिदिन बढ़ रहे है , इंटरनेट पर जितने अच्छे लोग है उतने ही बुरे लोग भी है जो अक्सर यूजर के डाटा को चुराने और उनके सिस्टम्स को डैमेज करने के बारे में सोचते है .

अटैकर्स (Attackers) ज्यादातर उन लोगों को अपना शिकार बनाते है जो जिनके पास ज्यादा टेक्निकल नॉलेज और साइबर सुरक्षा के बारे में जानकरी नहीं होती है .

जो लोग इंटरनेट यूज़ करते समय कोई भी सावधानी नहीं रखते और किसी भी फर्जी SMS और फर्जी Websites पर आसानी से भरोसा कर लेते है या किसी अनजान व्यक्ति के साथ अपनी निजी जानकारियां शेयर कर देते है ऐसे लोग अक्सर साइबर हमले का शिकार बन जाते है .

Cyber Attacks से बचने के लिए आप यहां पर हम जो साइबर सुरक्षा टिप्स (Cyber Safety Tips) बताने जा रहे है उन्हें फॉलो कर सकते है .

#1 सॉफ्टवेयर और ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट करें

आप जो भी Softwares अपने सिस्टम में यूज़ करते है उन सभी Softwares को हमेशा लेटेस्ट वर्शन पर अपडेट करें और आपका सिस्टम जिस भी OS (Operating System) पर काम कर रहा है उसे भी अपडेट करके लेटेस्ट वर्शन पर यूज़ करें . जैसा की आपको पता ही होगा की सॉफ्टवेयर और ऑपरेटिंग सिस्टम को Coding से बनाया जाता है और जब इन्हें सॉफ्टवेयर कम्पनीज द्वारा अपडेट किया जाता है तब पुराने कोड के साथ नया कोड ऐड किया जाता है और नया कोड जब किसी सॉफ्टवेयर में ऐड किया जाता है तब उसे पुराने कोड से बेहतर बनाया जाता है और सॉफ्टवेयर के सिक्योरिटी कमजोरियों को भी हटाया जाता है .

जब भी किसी सॉफ्टवेयर का लेटेस्ट वर्शन आता है तो उसके पुराने वर्शन को हैक साइबर अपराधियों द्वारा हैक किया जा सकता है इसलिए आपके सिस्टम पर इनस्टॉल सभी Softwares और ऑपरेटिंग सिस्टम्स को अपडेट करते रहें .

#2 एंटी वायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें

हमेशा अपने सिस्टम में एंटी वायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल जरूर करे . एंटी वायरस सॉफ्टवेयर आपके सिस्टम में वायरस को आने से रोकता है और फर्जी असुरक्षित Websites और प्रोग्राम्स को भी ब्लॉक कर देता है . एंटीवायरस आपके सिस्टम में मौजूद वायरस को भी हटा देता है और आपके सिस्टम की सुरक्षा भी काफी हद तक बढ़ा देता है .

#3 मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें

लॉगिन सिस्टम्स में हमेशा मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें पासवर्ड ऐसा रखें जिसका कोई भी व्यक्ति आसानी से अनुमान ना लगा सके , अपने पासवर्ड को हमेशा गुप्त रखें और किसी को ना बताएं , पासवर्ड बनाते समय उसमे अपने नाम , जन्म तिथि , मोबाइल नंबर जैसी चीजों का यूज़ बिलकुल ना करें क्योंकि ऐसे पासवर्ड को क्रैक करना आसान होता है . मजबुत पासवर्ड बनाने के लिए उसमे Special Characters , Symbols , Letters , Numbers का कॉम्बिनेशन बनायें और अपने पासवर्ड को थोड़े दिनों के बाद बदलते रहें .

#4 अज्ञात ईमेल अटैचमेंट को न खोलें

किसी अज्ञात ईमेल से आयी ईमेल अटैचमेंट को कभी भी ना खोलें क्योंकि इसमें वायरस भी हो सकता है और यह साइबर अपराधियों द्वारा आपका डाटा चुराने की एक साजिश भी हो सकती है .

#5 अज्ञात ईमेल में लिंक पर क्लिक न करें

इंटरनेट Users को कई बार ऐसे फर्जी मेल जरूर आते है जिसमे लिखा होता है की आपकी लोटरी लगी है या किसी बैंक के नाम से फर्जी ईमेल आते है जो आपको पैसो का लालच देते है और कई बार नौकरी के भी फर्जी ईमेल आते है ऐसे इमेल्स में आपको निचे एक वेबसाइट का लिंक दिया होता है जो की एक Fake वेबसाइट हो सकती है यह एक वायरस हो सकता है इसलिए आपको किसी भी अनजान ईमेल की लिंक्स को ओपन नहीं करना चाहिए .

#6 असुरक्षित WIFI नेटवर्क का इस्तेमाल ना करें

कई बार सार्वजानिक स्थानों पर फ्री का WIFI मौजूद होता है लेकिन ऐसे WIFI networks असुरक्षित हो सकते है इससे आप man-in-the-middle attack का शिकार बन सकते है इसलिए असुरक्षित WIFI Networks से अपनी सिस्टम को कभी भी कनेक्ट ना करें .

साइबर सुरक्षा में करियर (Career In Cyber Security)

अगर आप साइबर सुरक्षा में अपना करियर बनाना चाहते है तो आपको बता दूँ की आपका निर्णय काफी सही है क्योंकि साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट की डिमांड आज के समय में बहुत ज्यादा है और भविष्य में इसका स्कोप आज के मुकाबले काफी बढ़ने वाला है . नए नए लोग इंटरनेट और टेक्नोलॉजी से जुड़ रहे है और साइबर अपराधों की नयी नयी घटनाएं भी रोज सामने आ रही है ऐसे में अगर आपके पास साइबर सुरक्षा से सम्बंधित स्किल्स है तो आप आसानी से साइबर सुरक्षा में एक अच्छा करियर बना सकते है .

साइबर सुरक्षा एक प्रसिद्द IT career है जिसकी गिनती टॉप आईटी कैरियर्स में होती है , यदि आप एक साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट बनना चाहते है तो एथिकल हैकिंग या साइबर सुरक्षा से सम्बंधित कोई ऑनलाइन या ऑफलाइन कोर्स कर सकते है अगर आपको कंप्यूटर और नेटवर्क से जुडी चीजे सिखने में अच्छी लगती है तो आप इस क्षेत्र में अपनी किस्मत आजमा सकते है क्योंकि इस समाज में आज के समय में साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट का काफी सम्मान और इज्जत होती है .

साइबर सुरक्षा और कंप्यूटर सिक्योरिटी से सम्बंधित कुछ उपयोगी किताबे जिन्हे आप खरीद सकते है –

Cyber Security FAQ In Hindi

साइबर का मतलब क्या होता है ?

“साइबर” शब्द सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी), अर्थात्, कंप्यूटर के साथ एक संबंध को दर्शाता है यह कंप्यूटिंग के सभी पहलुओं से संबंधित हो सकता है, जिसमें डेटा संग्रहीत करना, डेटा की सुरक्षा करना, डेटा एक्सेस करना, डेटा प्रोसेसिंग करना, डेटा ट्रांसमिट करना और डेटा लिंक करना शामिल है .

साइबर सुरक्षा विज्ञान क्या है ?

साइबर सुरक्षा कंप्यूटर साइंस का ही एक हिस्सा है जो सिस्टम्स , नेटवर्क और सॉफ्टवेयर को साइबर आक्रमण से दूर रखने का एक तरीका है जिसमे सिस्टम और नेटवर्क में उपलब्ध किसी भी प्रकार की सूचनाओं और डाटा को सुरक्षित और गोपनीय रखने का अभ्यास किया जाता है. साइबर साइंस प्रमुख कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, एम्बेडेड सिस्टम, नेटवर्क, दूरसंचार, कंप्यूटर सिस्टम, कंप्यूटर जांच और साइबर संचालन पर केंद्रित है .

साइबर सेक्युरिटी के कितने स्तंभ हैं ?

तीन ! साइबर सुरक्षा को तीन मुख्य स्तंभों में विभाजित किया जा सकता है : लोग, प्रक्रियाएं और तकनीक यदि आप इन महत्वपूर्ण घटकों को समझते हैं, तो आप उन्हें गुणवत्ता आईटी सेवा और साइबर सुरक्षा प्रदान करने के लिए रोड मैप के रूप में उपयोग कर सकते हैं .

साइबर सुरक्षा हमारे लिए क्यों आवश्यक है ?

साइबर सुरक्षा महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमारे संवेदनशील डेटा, व्यक्तिगत रूप से पहचान योग्य जानकारी , संरक्षित स्वास्थ्य सूचना , व्यक्तिगत जानकारी, बौद्धिक संपदा, और डेटा चोरी होने से बचाना तथा साइबर अपराधियों से डाटा को सुरक्षित रखने का एक अभ्यास और तकनीक है .

साइबर सुरक्षा का भविष्य कैसा है ?

साइबर सुरक्षा का भविष्य काफी अच्छा रहने वाला है क्योंकि दिन प्रतिदिन काफी सारे नए लोग इंटरनेट और टेक्नोलॉजी से जुड़ रहे है और इसी कारण साइबर सुरक्षा से सम्बंधित समस्याएं भी सामने आ रही है , आने वाले समय में डिजिटल डाटा की सुरक्षा काफी महत्वपूर्ण विषय है और इसमें करियर के भी काफी अधिक अवसर भविष्य में उपलब्ध होने वाले है .

अंतिम शब्द

दोस्तों आजके साइबर सुरक्षा क्या है | Cyber Security In Hindi इस लेख में हमने साइबर सिक्योरिटी के बारे में जाना अगर आपको Cyber Security के बारे में यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और अगर आपके पास साइबर सुरक्षा से सम्बंधित कोई भी सवाल है तो हमे कमेंट करके जरूर पूछें .

इन्हें भी जरूर पढ़ें

Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is an internet entrepreneur , SEO expert and the author & founder of TechYatri.com , He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing , He has working across various Internet-based businesses . When not working, you can find him enjoying with his family members and friends .

3 COMMENTS

  1. साइबर सुरक्षा के संबंध में बेहतरीन जानकारी दिया ,क्योंकि जब आप लैपटॉप से कोई कार्य करते हो तो हमेशा आशंका रहती है हैकर की ,इस आर्टिकल से जानकारी हुई ,की कैसे बचाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े