HomeTECHNOLOGYCDN क्या है और एक वेबसाइट के लिए CDN क्यों जरुरी होता...

CDN क्या है और एक वेबसाइट के लिए CDN क्यों जरुरी होता है ?

जानिए CDN Kya Hai – वर्तमान समय में इंटरनेट पर लगबघ 1 अरब से ज्यादा Websites और Blogs मौजूद है और दुनियाभर में ब्लॉग्गिंग websites पर रोजाना 5,760,000 से भी अधिक आर्टिकल्स पब्लिश किये जाते है इन नंबर्स से आप कल्पना कर सकते है की कॉम्पीटीशन कितना ज्यादा है और इस कॉम्पीटीशन में आगे रहने के लिए Bloggers और websites ओनर्स अपनी वेबसाइट को सबसे आगे रखने के लिए अलग अलग अपनाते है CDN भी उन्ही में से एक है इसीलिए CDN क्या है और कैसे काम करता है यह जानना एक ब्लॉगर के लिए बहुत जरुरी है !

आज के समय में हर कोई इंटरनेट से ऑनलाइन पैसे कमाने की चाहत रखता है और Blogging ऑनलाइन पैसे कमाने का एक काफी प्रसिद्ध तरीका है लेकिन इस क्षेत्र में कॉम्पिटिशन बहुत ज्यादा है इसलिए जो बिगिनर्स इस क्षेत्र में आते है उनको डोमेन , वेब होस्टिंग जैसी चीजों के साथ साथ CDN क्या होता है और वेबसाइट के लिए CDN क्यों जरुरी होता है इसके बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी है .

अगर आप भी CDN के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में जानना चाहते है तो हमारी यह पोस्ट आपको अंत तक ध्यान से पढ़नी होगी क्योंकि यहाँ पर हम CDN से जुड़े सभी सवाल और concepts के बारे में सरल और आसान भाषा में जानने वाले है .

CDN (Content delivery network) क्या है ?

CDN एक कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क होता है जिसका काम वेब ब्राउज़र में वेबसाइट का स्पीड बढ़ाना होता है यह नेटवर्क भौगोलिक दृष्टि से विभाजित किया होता है जिस कारण वेबसाइट पर आने वाले users की रिक्वेस्ट्स को आसानी से हैंडल किया जाता है और यूजर कम समय में वेबसाइट एक्सेस कर पाता है क्योंकि CDN से वेबसाइट का लोडिंग स्पीड काफी हद तक बढ़ जाता है जिससे कम समय में लोड होती है .

जब आप अपनी वेबसाइट पर CDN यूज़ करते है तब आपकी वेबसाइट का डाटा अलग अलग लोकेशन पर डिस्ट्रीब्यूट कर दिया जाता है जिस कारण अगर कोई यूजर आपकी वेबसाइट से कोई डाटा एक्सेस करने आता है तो उस यूजर को उसके लोकेशन के सबसे Nearest(करीबी) डाटा सेंटर से आपकी वेबसाइट का डाटा serve किया जाता है जिससे आपकी वेबसाइट यूजर के डिवाइस में काफी फ़ास्ट लोड होती है और यूजर को भी डाटा एक्सेस करने में आसानी होती है .

अगर यूजर किसी डाटा की तलाश में आपके वेबसाइट पर आता है और आपकी वेबसाइट जल्दी लोड नहीं होती तो यूजर बैक जाकर किसी दूसरी वेबसाइट पर चला जाता है जिसकारण आपकी वेबसाइट की गूगल की नजर में एक खराब छवि बन जाती है और गूगल आपकी वेबसाइट को सर्च आउट-रैंक कर देता है या आपके web pages की रैंकिंग घटा देता है इसी समस्या से बचने के लिए Bloggers CDN (Content delivery network) का इस्तेमाल करते है जिससे website जल्दी लोड होती है .

यूजर जब भी कोई डाटा आपकी वेबसाइट से एक्सेस करना चाहता तब उसे जिस सर्वर पर आपने अपनी वेबसाइट होस्ट की है उस Server पर Redirect कर दिया जाता है लेकिन अगर एक साथ अगर ज्यादा यूजर आपकी वेबसाइट पर आते है तो वेबसाइट की लोडिंग स्पीड कम हो जाएगी और ऐसी स्थिति में आपका सर्वर क्रैश भी हो सकता है लेकिन अगर आप अपनी वेबसाइट पर CDN Technology का इस्तेमाल करते है तो आप इस समस्या से बच सकते है CDN ज्यादा users की रिक्वेस्ट भी आसानी से हैंडल कर लेता है क्योंकि इसमें आपका सर्वर अलग अलग लोकेशन पर डिस्ट्रीब्यूट होता है .

वेबसाइट/ब्लॉग के लिए CDN इस्तेमाल करना क्यों जरुरी होता है ?

अभी तक हमने देखा की CDN क्या होता है लेकिन आपको यह जानना भी जरुरी है की CDN के क्या फायदे है और blog /website के लिए CDN क्यों जरुरी है . CDN सिर्फ आपके Website की loading speed नहीं बढ़ता बल्कि CDN से आपको कई तरह के फायदे होते है . अब हम CDN के फायदों के बारे में जिससे आपको आईडिया हो जायेगा की क्यों आपको अपने वेबसाइट के लिए CDN का इस्तेमाल करना चाहिए .

Loading Speed

CDN यूज़ करने का सबसे पहला और सबसे बड़ा फायदा होता है Loading Speed . जब आप CDN (Content delivery network) का इस्तेमाल अपनी वेबसाइट/ब्लॉग के लिए करते है तो आपकी वेबसाइट की स्पीड काफी बढ़ जाती है . लोडिंग स्पीड बढ़ने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है की सर्च इंजन से आने वाला कोई भी यूजर आपकी वेबसाइट जल्दी से एक्सेस कर पाता है जिससे यूजर को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ता है क्योंकि CDN की वजह से वेबसाइट ब्राउज़र में काफी तेजी से लोड हो जाती है .

Search Engine Ranking

अगर आप CDN यूज़ करते है तो आपकी वेबसाइट/ब्लॉग सर्च इंजन में तेजी से रैंक होती है , जैसा की आपको पाता होगी की गूगल जैसे बड़े बड़े सर्च इंजिन्स किसी भी वेबसाइट के Loading Speed के ऊपर उस वेबसाइट की रैंक सर्च इंजन में तय (decide) करते है इसलिए अगर आपके वेबसाइट की Speed अच्छी होगी तो सर्च इंजन में आपके वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ती है .

Good User Experience

Content delivery network (CDN) के इस्तेमाल से आपके वेबसाइट पर आने वाले users का एक्सपीरियंस काफी अच्छा होता है क्योंकि CDN की वजह से आपकी वेबसाइट users को एक्सेस करने में आसानी होती है और वेबसाइट की लोडिंग स्पीड अच्छी होने के कारण यूजर को Pages Load होने में ज्यादा समस्याएं नहीं आती और इससे यूजर का काफी समय भी बच जाता है .

Traffic Handling

यदि आपकी वेबसाइट/ब्लॉग प्रसिद्द है या आपके वेबसाइट का कोई पोस्ट या पेज वायरल हो जाता है तो आपके वेबसाइट पर एक साथ बहुत ज्यादा ट्रैफिक आ सकता है ऐसी कंडीशन में आपके सर्वर पर लोड आता है और कई बार सर्वर क्रैश हो जाता है लेकिन आपने CDN लगा रखा है तो ऐसी स्थिति में आपका सर्वर क्रैश नहीं होगा क्योंकि CDN आपके वेब सर्वर्स को multiple geographical locations के अलग अलग सर्वर्स पर डिवाइड कर देता है जिससे आपके ब्लॉग पर आने वाली ट्रैफिक आसानी से हैंडल हो जाती है .

इनके अलावा भी CDN के आपकी वेबसाइट को अप्रत्यक्ष काफी फायदे होते है इसलिए बेहतर परफॉरमेंस और इस इंटरनेट की कॉम्पिटिशन में टिके रहने के लिए CDN (Content delivery network) का उपयोग जरूर करना चाहिए .

- Advertisement -

दोस्तों उम्मीद है आपको CDN क्या है और CDN से रिलेटेड हमारी यह जानकारी अच्छी लगी होगी आपकी CDN को लेकर क्या राय है क्या आप भी अपनी वेबसाइट पर CDN का इस्तेमाल करते है ? हमे कमेंट करके जरूर बताये !

इन्हे भी जरूर पढ़ें –
> बैकलिंक क्या है और वेबसाइट के लिए क्वालिटी बैकलिंक्स कैसे बनाये ?
> SEO : Passage Indexing क्या है ? गूगल में पैसेज इंडेक्स कैसे करें
> सर्वर क्या है और सर्वर के प्रकार – what is server in hindi
> क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है ? Cloud Computing in hindi
> SEO क्या है और SEO कैसे करते है [Full SEO Guide In Hindi]
- Advertisement -
Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is the Author & Founder of TechYatri.com . He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े