HomeTECHNOLOGYबैकलिंक क्या है और वेबसाइट के लिए क्वालिटी बैकलिंक्स कैसे बनाये ?

बैकलिंक क्या है और वेबसाइट के लिए क्वालिटी बैकलिंक्स कैसे बनाये ?

क्या आपको भी यह सवाल परेशान करता है – बैकलिंक क्या है (what is meaning of backlink in hindi)

अगर आपकी वेबसाइट/ब्लॉग है तो आपने बैकलिंक के बारे में बहुत बार सुना होगा और यह सवाल आपके मन में कभी न कभी जरूर आया होगा की Backlink kya hai ?

बैकलिंक एक बहुत जरुरी चीज है , जब आप SEO सिख रहे होते है या किसी वेबसाइट की SEO कर रहे होते है तब , क्योंकि किसी भी वेबसाइट को रैंक करने में बैकलिंक्स का बहुत बड़ा महत्व होता है .

Backlinks का ठीक से नॉलेज न होने के कारण कई सारे नए ब्लॉगर्स अपनी वेबसाइट को सही तरीके से सर्च इंजन में रैंक नहीं करा पाते है .

कभी कभी गलत या स्पैम बैकलिंक्स बनाने से गूगल आपकी वेबसाइट को penalized कर देता है मतलब आपकी वेबसाइट सर्च रिजल्ट में कही पर भी शो नहीं होती है .

नए bloggers को बैकलिंक्स के बारे में थोड़ा बोहोत नॉलेज तो होता है लेकिन यह थोड़ा नॉलेज आपकी वेबसाइट को गूगल से हमेशा के लिए गायब कर सकता है , आपकी वेबसाइट लाइफटाइम के लिए penalized हो सकती है.

एक ब्लॉगर को या वेबसाइट ओनर को Backlinks के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी होता है !

इस आर्टिकल को आप अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि इसमें बैकलिंक्स के बारे में हम A to Z जानकारी देने वाले है जो आपके लिए बहुत वैल्युएबल हो सकती है .

बैकलिंक क्या है (What is backlink in hindi)

जब किसी एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट की लिंक दी जाती है तब उसे बैकलिंक कहा जाता है . साधारण शब्दों में अगर आप अपनी वेबसाइट से मेरी वेबसाइट को लिंक करते है तो उस लिंक को मेरी वेबसाइट की बैकलिंक कहा जायेगा क्योंकि जब भी कोई यूजर आपकी वेबसाइट में उस लिंक पर क्लिक करता है तो वह मेरी वेबसाइट पर पोहोंच जायेगा !

इसे एक उदाहरण से समझिये ,

backlink meaning in hindi

ऊपर दिए हुए चित्र में website A ने अपनी वेबसाइट में वेबसाइट B की लिंक दी है जो की वेबसाइट B की बैकलिंक कहलाई जाएगी !

बैकलिंक एक वेबसाइट के लिए बहुत जरुरी चीज होती है , जितनी ज्यादा आपकी वेबसाइट को बैकलिंक मिलती है उतनी ही आपकी वेबसाइट की SEO मजबूत होती जाती है और वेबसाइट सर्च इंजन में रैंक करने लगती है .

Backlink meaning in hindi

जब एक वेबसाइट का वेबपेज किसी अन्य वेबसाइट के वेबपेज से जुड़ा हुआ होता है तब उसे बैकलिंक कहा जाता है , आसान भाषा में बैकलिंक एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट में जाने का रास्ता होता है !

- Advertisement -

SEO में बैकलिंक्स बहुत बड़ी निर्णायक भूमिका निभाती है , बैकलिंक्स Off page SEO की सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है .

बैकलिंक क्या है ? उम्मीद है आपको इस सवाल का जवाब मिल गया होगा !

अभी तक हमने सिर्फ यही देखा है की Backlink kya hai लेकिन बैकलिंक के बारे में और भी बहुत सारी चीजे है जो हम आगे देखेंगे .

बैकलिंक के प्रकार (Types of backlink in hindi)

बैकलिंक के मुख्यतः 2 प्रकार होते है : 1. Nofollow Backlinks और 2. Dofollow Backlinks

अब इनमे कन्फूस होने वाली कोई बात नहीं है की Dofollow Backlink क्या है और Nofollow Backlinks क्या है .

यह दोनों भी concepts बहुत सिंपल है ! चलिए हम इन्हे आसान तरीके से समझते है .

types of backlinks in hindi

#1 Nofollow Backlink क्या है और कैसे काम करती है ?

Nofollow link एक ऐसी लिंक होती है जो कोई भी वैल्यू पास नहीं करती मतलब इस लिंक पर क्लिक करके एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट पर नहीं जा सकते है .

किसी लिंक में Nofollow टैग सर्च इंजिन्स को यह दर्शाता है की इस लिंक को Ignore किया जाए , जब भी सर्च इंजिन्स websites में Nofollow टैग वाली links को Crawl करता है तब उन्हें नज़रअंदाज़ किया जाता है .

Nofollow लिंक्स सर्च इंजन रैंक बढ़ाने में उपयोगी नहीं होती है !

अब इसका मतलब यह बिलकुल नहीं होता है की Nofollow links कुछ काम की नहीं होती है !

Nofollow links से रैंकिंग में तो कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन Dofollow links के साथ Nofollow लिंक्स देना भी जरुरी होता है यह आपकी वेबसाइट की हेल्थ सही रखने में मदत करती है .

डोमेन अथॉरिटी (DA) , पेज अथॉरिटी (PA) स्थिर रखने के लिए किसी भी वेबसाइट में dofollow लिंक्स के साथ साथ nofollow बैकलिंक्स भी बहुत जरुरी होती है .

#2 Dofollow Backlink क्या है और कैसे काम करती है ?

dofollow बैकलिंक्स ऐसी links होती है जो हर कोई चाहता है !

हाँ , यह लिंक्स सभी को चाहिए होती है क्योंकि यह लिंक्स बहुत काम की होती है और सर्च इंजिन्स में रैंकिंग बढ़ाने में काफी जरुरी होतो है .

जब भी किसी सर्च इंजन के Robots वेबसाइट को crawl करते है तब dofollow लिंक्स को index करने की अनुमति दे देते है .

यह लिंक्स एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट में जाने के योग्य होती है और गूगल ऐसी लिंक्स को dofollow Tag के साथ crawl करता है जिसकी वजह से वेबसाइट की रैंक सर्च इंजन में बढ़ती है

nofollow लिंक्स के मुकाबले dofollow लिंक्स आपकी रैंकिंग बढ़ाने में उपयोगी होती है .

dofollow बैकलिंक्स हमेशा सही मात्रा में और high quality website से ही लेनी चाहिए !

क्योंकि , जितनी तेजी से यह लिंक्स आपकी Search Engines में रैंकिंग बढाती है उतनी ही तेजी से यह आपकी वेबसाइट की रैंकिंग कम भी कर सकती है !

Bad और spam बैकलिंक्स आपकी वेबसाइट की रैंकिंग कम कर सकते है या सर्च इंजन से आपकी वेबसाइट penalize कर सकती है .

Backlinks कैसे काम करती हैं ?

किसी भी सर्च इंजन algorithm , SEO में बैकलिंक्स बहुत बड़ा रोले प्ले करती है !

बैकलिंक को समझना और यह कैसे काम करती है समझना बहुत ही आसान है , चलिए इसे हम एक Example से समझते है .

मान लीजिये कोई Raj नाम का एक नया ब्लॉगर है और उसने स्पोर्ट्स के ऊपर एक इंट्रेस्टिंग आर्टिकल उसके वेबसाइट पर लिखा है .

दूसरी तरफ़ मान लीजिये Rahul नाम का एक और ब्लॉगर है जिसका ब्लॉग पुराना है और सर्च इंजन में अच्छी तरह से रैंक है और इसकी अथॉरिटी भी सर्च इंजन में Raj के ब्लॉग से ज्यादा है .

ऐसे में Rahul अपने ब्लॉग पर आर्टिकल लिखते समय किसी कीवर्ड पर Raj के आर्टिकल को लिंक कर देता है , तो वह लिंक backlink मानी जाएगी !

Raj के आर्टिकल को जो बैकलिंक मिली है वह एक हाई-ऑथोरिटी ब्लॉग से मिली है इसीलिए Raj का ब्लॉग सर्च इंजन में रैंक करने लगेगा और गूगल भी उसे टॉप में रैंक करने की कोशिश करेगा क्योंकि वह एक हाई-ऑथोरिटी ब्लॉग से Linked है .

इसी तरह से जितनी ज्यादा हाई ऑथोरिटी वाली वेबसाइट से आपको बैकलिंक मिलेगी उतनी ज्यादा आपके वेबसाइट की भी अथॉरिटी बढ़ेगी .

जितनी ज्यादा आपकी वेबसाइट को बैकलिंक्स मिलेगी उतनी आपकी वेबसाइट की SEO स्ट्रांग होती जाएगी और सर्च इंजन में हमेशा आपकी वेबसाइट टॉप में दिखेगी .

Backlinks कैसे बनाते है ?

काफी सामान्य सवाल है जो हर ब्लॉगर के मन में उठता है – Backlinks कैसे बनाते है ?

वेबसाइट के लिए backlinks बनाने के लिए समय और मेहनत दोनों की जरुरत होती है , कभी भी किसी भी शॉर्टकट मेथड से बैकलिंक नहीं बनाये .

जो नए ब्लॉगर होते है उनको अक्सर इस बात का पता नहीं होता हैं की Backlinks kaise banaye और Quality backlinks kaise banayi jati hai .

बहुत सारे नए ब्लॉगर spam websites से बैकलिंक्स बना लेते है जिसके कारण उनकी वेबसाइट सर्च इंजन में कही पर भी दिखाई नहीं देती .

यहाँ पर हम आपको कुछ आसान टिप्स बताने वाले है जिन्हे फॉलो करके आप अपनी वेबसाइट के लिए High Quality Backlinks बना सकते है !

  • Social media profiles : आपको अपनी वेबसाइट का लिंक अलग अलग सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक , इंस्टाग्राम ,ट्वीटर पर सबमिट करनी चाहिए यहाँ से आपको डायरेक्ट dofollow लिंक मिलती है . और इन websites की अथॉरिटी भी बहुत ज्यादा होती है , इनका DA(Domain Authority) 90 से ज्यादा होता है अगर आप यहाँ से बैकलिंक लेते है तो इसका आपकी वेबसाइट को काफी ज्यादा फायदा होता है .
  • Guest post : अगर आप किसी वेबसाइट से अपने वेबसाइट के लिए dofollow बैकलिंक बनाना चाहते है तो यह सबसे आसान और प्रसिद्ध तरीका है . किसी भी वेबसाइट ओनर से कांटेक्ट कर के आप फ्री में गेस्ट पोस्ट लिखने ऑफर उनको दे सकते है जिसके बदले आप उस वेबसाइट से 1-2 dofollow बैकलिंक ले सकते है .
  • Comments : यह बैकलिंक्स दूसरी websites पर कमैंट्स कर आप बना सकते है हालांकि यह nofollow बैकलिंक्स की श्रेणी में आती है यह लिंक्स बनाना इतना जरुरी नहीं होता है , लेकिन nofollow backlinks भी आपकी वेबसाइट के लिए फायदेमंद होती है इसीलिए आपको यह लिंक्स भी जरूर बनानी चाहिए .
  • Profile websites : बहुत सारी ऐसी websites होती है जहा पर आप अपना अकाउंट बना सकते है और उसमे अपनी इनफार्मेशन लिख सकते है इन्ही websites में आपको website url सबमिट करने का भी ऑप्शन मिलता है वहा से आप dofollow बैकलिंक्स ले सकते है .
  • Internal backlink : जब भी आप कोई आर्टिकल लिखे तब अपने website के अन्य आर्टिकल्स और वेबपेजेस को उसमे जरूर लिंक करे और दूसरे भी अन्य हाई क्वालिटी websites के pages को भी अपने आर्टिकल में जरूर लिंक करे , इंटरनल बैकलिंक्स से भी आपकी वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ती है .

बैकलिंक्स बनाने के और भी तरीके हो सकते है लेकिन यह सबसे प्रसिद्ध तरीके है , अगर आपके पास टाइम है और क्वालिटी बैकलिंक्स अपने वेबसाइट के लिए बनाना चाहते है तो हम आपको गेस्ट पोस्ट का तरीका suggest करेंगे क्योंकि यह तरीका बिलकुल सही और लीगल है .

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल बैकलिंक क्या है ? जिसमे हमने बैकलिंक्स के बारे में बताया है , उम्मीद है आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी !

अगर आपके मन में बैकलिंक्स से रिलेटेड कोई भी सवाल है तो कमेंट करके जरूर पूछे धन्यवाद !

यह भी पढ़ें –

- Advertisement -
Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is the Author & Founder of TechYatri.com . He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing .

2 COMMENTS

  1. The information given by you is very good and informative and the way you write is also good. Thank you for the information.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े