HomeTECHNOLOGYफास्टैग (Fastag) क्या है और कैसे काम करता है | Fastag In...

फास्टैग (Fastag) क्या है और कैसे काम करता है | Fastag In Hindi

फास्टैग क्या है : फास्टैग एक इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है जिसमे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल होता है .

अगर आप भी जानना चाहते है की फास्टैग क्या है (What Is Fastag In Hindi) और यह कैसे काम करता है , फास्टैग कैसे इस्तेमाल करें तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें . हाईवे रोड से यात्रा करना अगर आपको पसंद है या आप यात्रा करने का प्लान बना रहे है तो आपको Fastag के बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी है क्योंकि अगर आपको नहीं पता है की फास्टैग क्या है तो आपको टोल प्लाजा पर दुगना फीस भरना पड़ सकता है क्योंकि राष्ट्रीय हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा भारत में इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम को शुरू किया गया है इसलिए अगर कोई गाड़ी मालिक फास्टैग का इस्तेमाल नहीं कर रहा है तो उससे सरकार द्वारा दुगनी टोल फीस वसूल की जा रही है .

टोल कलेक्शन सिस्टम को लेकर हमेशा टोल प्लाजाओं पर वाहन चालकों और टोल प्लाजा कर्मचारियों को कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसी को ध्यान में रखकर परेशानियों का हल निकालने के लिए राष्ट्रीय हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा भारत में इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम को शुरू किया गया है .

फास्‍टैग क्या है (What Is FastTag In Hindi)

फास्टैग एक इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है जिसमे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल होता है इस तकनीक में टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है जो की टोल प्लाजा पर लगे सेंसर से स्कैन किया जाता है . जैसे ही कोई फास्टैग लगा हुआ वाहन टोल प्लाजा के पास आता है उस वक़्त टोल प्लाजा पर लगे सेंसर उस वाहन के फास्टैग को Track कर लेता है .

Fastag सीधे आपके बैंक अकाउंट से कनेक्ट रहता है इसलिए टोल प्लाजा पर बिना रुके ही आप इसकी साहयता से टोल फीस भर सकते है क्योंकि जैसे ही आपकी गाडी टोल प्लाजा से गुजरती है टोल प्लाजा पर लगा हुआ सेंसर आपके गाडी पर गले फास्टैग को ट्रैक कर लेता है .

यह पूरा प्रोसेस आटोमेटिक होता है इसलिए टोल प्लाजा पर बिना गाड़ी रोके आटोमेटिक आपके फास्टैग कार्ड टोल प्लाजा के सेंसर्स द्वारा स्कैन किया जाता है और आपके अकाउंट से टोल का शुल्क भी अपने आप कट जाता है और फास्टैग अकाउंट का बैलेंस ख़त्म होने के बाद आपको उसे फिर से रिचार्ज करना होता है .

फास्टैग कैसे काम करता है फास्टैग की जानकारी हिंदी में ?

FasTag एक आटोमेटिक टोल कलेक्शन टेक्नोलॉजी है जो की खासकर टोल प्लाज़ास के लिए विकसित की गयी है टोल प्लाजा पर होने वाली अव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए फास्टैग को बनाया गया है जिससे टोल प्लाजा के कार्य कम समय में अधिक हो .

fastag kaise kaam karta hai

यह एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है जिसमे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल किया जाता है जिसकी सहायता से सड़क से गुजरती हुयी गाड़ियों से आटोमेटिक टोल का शुल्क लिया जाता है .

फास्टैग आपको अपने गाड़ी के विंडस्क्रीन के ऊपर लगाना होता है वही दूसरी तरफ टोल प्लाजा पर एक सेंसर लगाया होता है जो आपके गाड़ी के ऊपर लगे फास्टैग को आटोमेटिक स्कैन कर लेता है और स्कैन करने के बाद आपके फास्टैग अकाउंट से टोल का शुल्क अपने आप कट जाता है .

फास्‍टैग के क्या फायदे है ?

फास्टैग एक मॉडर्न आटोमेटिक टोल कलेक्शन टेक्नोलॉजी है जिसके इस्तेमाल से काफी सारे फायदे होते है और अब भारत के सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने फास्टैग तकनीक को कई टोल प्लाजाओं पर शुरू किया है इसलिए Fastag का सबसे बड़ा फायदा यह होगा की अब टोल प्लाजा पर गाड़ियों की लम्बी लम्बी लाइन्स नहीं लगेगी क्योंकि फास्टैग से टोल काटने का काम आटोमेटिक होगा जिससे सभी लोगों काफी समय बच जायेगा और फास्टैग यूज़ करने पर आपको डिस्काउंट भी मिलता है .

FasTag की जरुरत किसे है ?

आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा की क्या फास्टैग अनिवार्य है और इसकी जरुरत किन किन लोगों को है तो आपको बता दूँ की फास्टैग लगबघ सभी हाइवेज टोल प्लाज़ास पर सरकार द्वारा 15 फरवरी से अनिवार्य कर दिया है लेकिन अगर नए वाहन मालिकों को इसके बारे में चिंता करने की जरुरत नहीं है क्योंकि नए वाहनों को वाहन रजिस्ट्रेशन के समय ही फास्टैग उपलब्ध कराया जायेगा .

अगर आपके पास पुराना वाहन है तो आप फास्टैग को उन बैंकों से खरीद सकते है जो सरकार के राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह के अंदर आती है वैसे आप PayTm से भी फास्टैग को खरीद सकते है .

फास्‍टैग कहां से लें ?

Fastag लेना काफी आसान है आप सरकार के राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह के अंदर आने वाली किसी भी बैंक जैसे , भारतीय स्टेट बैंक (SBI) , एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक , आईडीएफसी बैंक , आईसीआईसीआई बैंक, से आप इसे खरीद सकते है फास्‍टैग के लिए आप ऑनलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते है और PayTM से भी इसे लिया जा सकता है .

Fastag के लिए किन दस्तावेजों की जरुरत होती है ?

- Advertisement -

फास्टैग खरीदने के लिए आपको फास्टैग आवेदन करते वक़्त कुछ जरुरी दस्तावेजों (Documents) की जरुरत होती है जो की इस प्रकार है –

  • वाहन के पंजीकरण प्रमाण पत्र (RC)
  • वाहन मालिक के पासपोर्ट साइज की तस्वीर
  • कोई भी KYC डाक्यूमेंट्स से की आधार कार्ड , ड्राइविंग लाइसेंस , पासपोर्ट , Voter ID Card या PAN कार्ड

यह सभी दस्तावेज आपके लिए जरुरी होते है जब आप को नया फास्टैग खरीद रहे होते है , KYC Documents में आपको वह डॉक्यूमेंट देना होगा जिसमे आपका पता(एड्रेस) मौजूद हो .

दोस्तों उम्मीद है आपको फास्टैग के बारे में यह जानकारी अच्छी लगी होगी अगर आपको फास्टैग (Fastag) क्या है और कैसे काम करता है यह आर्टिकल अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और फास्टैग से रिलेटेड कोई भी सवाल हो तो हमे कमेंट करके जरूर पूछें .

- Advertisement -
Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is the Author & Founder of TechYatri.com . He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े