HomeREVIEWSगूगल क्लासरूम क्या है और इसका उपयोग कैसे करें ?

गूगल क्लासरूम क्या है और इसका उपयोग कैसे करें ?

‘Google Classroom’ के बारे में आपने जरूर सुना होगा ! अगर नहीं? तो आपको इसके बारे में जरूर जानना चाहिए की गूगल क्लासरूम क्या है (google classroom in hindi) और इसका उपयोग कैसे करें ?

टेक्नोलॉजी की इस दुनिया में हर क्षेत्र में प्रतिदिन नए बदलाव हमे देखने को मिल रहे है , पहले छात्रों को शिक्षा सिर्फ स्कूल में जाकर मिलती थी लेकिन अब डिजिटल क्लासरूम और वर्चुअल क्लासरूम से भी टीचर अपने छात्रों को Online पढ़ा सकते है इसका एक उदाहरण है ‘Google Classroom’

वर्त्तमान समय में इ-लर्निंग को बहुत बढ़ावा दिया जा रहा है ऐसे में मार्किट में कई इ-लर्निंग प्लेटफॉर्म्स उपलब्ध है लेकिन गूगल क्लासरूम की बात ही कुछ अलग है क्योंकि यह गूगल का ही एक प्रोडक्ट है और जबकि गूगल एक काफी विश्वसनीय कंपनी है और गूगल के प्रोडक्ट्स भी सेफ और यूज़फूल होते है इसलिए गूगल क्लासरूम को भी लोगों द्वारा बहुत पसंद किया जा रहा है .

अगर आप एक टीचर है या एक स्टूडेंट है तो आपके लिए ‘Google Classroom’ एक काफी सही प्लेटफार्म है ! गूगल क्लासरूम को आप किस प्रकार इस्तेमाल कर सकते है , गूगल क्लासरूम में कैसे क्लास बनाया जाता है और Google Classroom से सम्बंधित जानकारियों के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े .

गूगल क्लासरूम क्या है ?

What is Google Classroom in hindi : Google क्लासरूम Google द्वारा स्कूलों के लिए विकसित एक मुफ्त वेब सेवा है जिसका उद्देश्य असाइनमेंट बनाना, वितरण और ग्रेडिंग को आसान बनाना है . Google Classroom का प्राथमिक उद्देश्य शिक्षकों और छात्रों के बीच फाइलों को साझा करने की प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करना है .

गूगल क्लासरूम एक बहुत अच्छी सर्विस है क्योंकि यह टीचर और स्टूडेंट्स में कम्युनिकेशन सुधारने में सहायता करता है और कोई भी टीचर या स्टूडेंट जिसके पास गूगल अकाउंट है वह अपने गूगल अकाउंट से गूगल क्लासरूम का इस्तेमाल कर सकता है और यह बिलकुल फ्री सर्विस है .

इस प्लेटफार्म की सहायता से टीचर और स्टूडेंट्स घर बैठे नोट्स शेयर कर सकते है , टीचर अपने स्टूडेंट्स के लिए असाइनमेंट्स असाइन कर सकते है और बड़े ही आसानी से क्लास ऑर्गनाइज़ कर सकते है . छात्र और शिक्षक में संचार का प्रबंधन करने के लिए गूगल क्लासरूम में आपको डॉक्स , शीट्स , स्लाइड्स , जीमेल , और कैलेंडर जैसी चीजें भी मिलती है .

Google Classroom में छात्रों को टीचर या स्कूल द्वारा एक निजी कोड(Password) के माध्यम से कक्षा में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जा सकता है या फिर छात्रों को School Domain से ऑटोमेटिकली कक्षा में ज्वाइन किया जा सकता है .

टीचर इस क्लासरूम में असाइनमेंट बना सकते है , वितरित कर सकते है और असाइनमेंट्स को मार्क भी कर सकते है ,यहाँ पर टीचर अपने स्टूडेंट्स से असाइनमेंट करवा सकते है और जिन स्टूडेंट्स ने असाइनमेंट टाइम पर सबमिट नहीं किये है उनका भी पता लगा सकते है .

गूगल क्लासरूम का इतिहास

Google के G Suite for Education program के कुछ सदस्यों के पूर्वावलोकन के साथ Google Classroom की घोषणा सबसे पहले 6 मई 2014 को की गयी थी और गूगल क्लासरूम को 12 अगस्त 2014 को सार्वजनिक रूप से जारी किया गया था . इसके बाद 2015 में गूगल द्वारा Classroom API और Share button की घोषणा की गयी साथ ही गूगल क्लासरूम में नए फीचर्स दिए गए जैसे स्कूल प्रशासकों और डेवलपर्स को Google क्लासरूम के साथ जुड़ने की अनुमति देना .

इसके अलावा 2015 में ही गूगल ने Google Classroom में गूगल केलिन्डर को इंटीग्रेट किया जिससे असाइनमेंट की नियत तारीक की जानकारी मिल सके और इसके अलावा फील्ड ट्रिप्स और क्लास स्पीकर्स जैसे फीचर्स को भी 2015 में गूगल क्लासरूम में इंटीग्रेट किया गया .

गूगल क्लासरूम में 2017 में एक महत्वपूर्ण बदलाव किया गया की कोई भी यूजर अपने पर्सनल गूगल अकाउंट से अब गूगल क्लासरूम में अकाउंट बना सकेगा जबकि इस अपडेट से पहले गूगल क्लासरूम चलाने के लिए Users को G Suite Education account की जरुरत होती थी .

वर्ष 2018 में गूगल ने गूगल क्लासरूम को रिडिजाइन किया , Google Classroom का यह बहुत बड़ा बदलाव था इस अपडेट में गूगल क्लासरूम में नए क्लासरूम सेक्शन को जोड़ा गया , ग्रेडिंग इंटरफ़ेस को सुधारा गया और विषय द्वारा सामग्री व्यवस्थित करने के लिए शिक्षकों के लिए सुविधाएँ जोड़ी गयी .

साल 2019 में गूगल ने क्लासरूम के लिए नए फीचर्स दिए जिनमे सबसे बड़ा फीचर था इलस्ट्रेटेड थीम्स , गूगल क्लासरूम में 78 नयी इलस्ट्रेटेड थीम्स दी गयी और इसके साथ ही ड्रैग एंड ड्राप का फीचर भी दिया गया . ड्रैग एंड ड्राप फीचर की सहायता से यूजर को क्लासवर्क सेक्शन में टॉपिक्स और असाइनमेंट्स को ड्रैग एंड ड्राप करने की अनुमति दी गयी .

अगला बदलाव हुआ 2020 में वर्ष 2020 में गूगल ने गूगल क्लासरूम को Google Meets से इंटीग्रेट कर दिया इसी के साथ गूगल क्लासरूम में 10 नयी भाषाएँ , नयी to-do widget , लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम्स इंटीग्रेशन , गूगल डॉक्स के लिए स्मार्ट करेक्ट और ऑटो-कंपोज़ जैसे कुछ नए फीचर्स को भी जोड़ा गया .

2020 से लेकर 2021 तक COVID-19 महामारी के चलते गूगल क्लासरूम को यूज़ करने वालों की संख्या काफी तेजी से बढ़ी क्योंकि लॉकडाउन के कारण सभी स्कूल बंद हो गए इसलिए इ-लर्निंग प्लेटफॉर्म्स की सहायता से ही टीचर्स और स्टूडेंट्स को अपना काम ऑनलाइन करना पड़ रहा है .

गूगल क्लासरूम की विशेषताएं

शैक्षिक संस्थानों को पेपरलेस करने में Google Classroom ने बहुत मदद की है , Google Classroom एक ऐसा प्लेटफार्म है जिससे गूगल के अलग अलग प्लेटफार्म जुड़े हुए है जैसे गूगल ड्राइव , गूगल डॉक्स, गूगल शीट्स, गूगल स्लाइड्स, गूगल फॉर्म्स, गूगल साइट्स और जीमेल जैसे गूगल के कई प्रोडक्ट्स गूगल क्लासरूम से जुड़े हुए है जिससे यह एक मजबूत प्लेटफार्म बनता है .

गूगल ने Google Classroom एक बहुत अच्छा फीचर ऐड किया हुआ वो है असाइनमेंट्स का इसके लिए गूगल ने अपना Google Calendar इसमें इंटीग्रेट किया है .

गूगल क्लासरूम में स्टूडेंट्स एक private code के साथ क्लासरूम ज्वाइन कर सकते है या फिर school domain से स्टूडेंट्स को ऑटोमेटिकली ऐड किया जाता है .

Google Classroom में बना हुआ हर एक Class का संबंधित यूजर के गूगल ड्राइव अकाउंट में एक सेपरेट फोल्डर क्रिएट होता है .

चलिए एक नजर डालते है “Google Classroom Features” के ऊपर –

असाइनमेंट्स

बाकि इ-लर्निंग प्लेटफॉर्म्स से Google Classroom को अलग बनता है उसके यूनिक और यूज़फूल फीचर्स . Google क्लासरूम का एक ऐसा ही फीचर है ‘Assignment’ यह काफी कमाल का फीचर है जिसकी सहायता से टीचर अपने स्टूडेंट्स को असाइनमेंट्स दे सकते है और स्टूडेंट्स उन असाइनमेंट्स को कम्पलीट कर सकते है .

यहाँ पर असाइनमेंट्स Google’s suite पर स्टोर होती है जो टीचर -स्टूडेंट्स और स्टूडेंट्स-स्टूडेंट्स में collaboration करने की अनुमति देता है .

गूगल क्लासरूम पर असाइनमेंट से सम्बंधित विभिन्न प्रकार के फीचर्स दिए गए है जिनकी सहायता से टीचर और स्टूडेंट्स दोनों को Assignment सम्बंधित सभी प्रोसेस को करने में आसानी होती है .

ग्रेडिंग

गूगल क्लासरूम कई ग्रेडिंग स्कीम्स को सपोर्ट करता है . गूगल क्लासरूम में टीचर्स को असाइनमेंट्स के साथ फाइल्स अटैच करने का भी ऑप्शन मिलता है मतलब टीचर असाइनमेंट्स को फाइल्स अटैच कर सकते है जिसे स्टूडेंट्स देख सकते है , एडिट कर सकते है , और उसकी व्यक्तिगत कॉपी भी प्राप्त कर सकते है

यदि टीचर द्वारा किसी फ़ाइल की कॉपी नहीं बनाई गई है, तो स्टूडेंट्स फ़ाइलें बना सकते हैं और फिर उन्हें असाइनमेंट में अटैच कर सकते हैं , यहाँ पर टीचर्स को एक अच्छा ऑप्शन दिया गया है जिसमे टीचर्स अपने अपने क्लास के हर एक छात्र की प्रगति की निगरानी कर सकते है और कमैंट्स और एडिट की अनुमति भी टीचर्स को दी गयी है .

कम्युनिकेशन

गूगल क्लासरूम इसके बेहतरीन कम्युनिकेशन एक्सपीरियंस के लिए भी जाता है . यहाँ पर टीचर और स्टूडेंट्स के बिच में काफी अच्छी तरीके से कम्युनिकेशन की सुविधाएँ उपलब्ध है . गूगल क्लासरूम क्लास के स्ट्रीमिंग में शिक्षक अनाउंसमेन्ट्स पोस्ट कर सकते है जिनपर स्टूडेंट्स टिप्पणी एवं अपनी प्रतिक्रियाएं दे सकते है Google Classroom का यह 2 way communication का फीचर काफी शानदार है .

यहाँ पर स्टूडेंट्स भी क्लास स्ट्रीम में पोस्ट कर सकते है लेकिन स्टूडेंट्स की पोस्ट को टीचर की पोस्ट जितनी प्राथमिकता नहीं दी जाती और स्टूडेंट्स की पोस्ट्स को मॉडरेट भी किया जा सकता है मतलब टीचर की परमिशन के बिना कोई भी स्टूडेंट की पोस्ट सार्वजनिक रूप से दिखाई नहीं देगी .

गूगल क्लासरूम गूगल के कई अलग अलग गूगल प्रोडक्ट्स के साथ कनेक्ट है जैसे यूट्यूब , गूगल ड्राइव और Google Classroom में टीचर के लिए ईमेल का ऑप्शन भी दिया गया है जिससे वे 1 या उससे ज्यादा स्टूडेंट्स को ईमेल भेज सकते है . गूगल क्लासरूम फ्री है और साथ में इसे वेबसाइट , एंड्राइड एप , IOS एप जैसे कई माध्यमों से एक्सेस किया जा सकता है इसलिए हर कोई इसे आसानी से यूज़ कर सकता है .

आर्काइव कोर्स

गूगल क्लासरूम प्रशिक्षकों को साल के आखिर में कोर्सेस को (archived) संग्रहित करने की अनुमति देता है . जब कोर्स को archived किया जाता है तब वह कोर्स होम पेज से हट जाता है और Archived Classes area में स्टोर हो जाता है . archived किये गए क्लासेस को टीचर और स्टूडेंट्स देख सकते है लेकिन उसे एडिट नहीं कर सकते है और archived classes को एडिट करने के लिए उन्हें रिस्टोर करना होता है .

मोबाइल ऍप्लिकेशन्स

Google Classroom वेब वर्शन के साथ साथ मोबाइल ऍप्लिकेशन्स में भी उपलब्ध है जनवरी 2015 गूगल क्लासरूम के मोबाइल एप्प्स लांच किये गए थे अभी गूगल क्लासरूम Android और IOS दोनों प्लेटफॉर्म्स के लिए उपलब्ध है . हर किसी के पास लैपटॉप और कंप्यूटर नहीं होता है इसलिए Google Classroom मोबाइल एप्स की सहायता से भी Google Classroom से जुड़ा जा सकता है . गूगल क्लासरूम एप्स की और एक खास बात यह है की यह ऑफलाइन एक्सेस को भी सपोर्ट करता है .

Google Classroom का उपयोग कैसे करें ?

अभी तक हमने देखा की गूगल क्लासरूम क्या होता है आप देखते है गूगल क्लासरूम का प्रयोग कैसे करे (How To Use Google Classroom) अगर आप भी गूगल क्लासरूम को यूज़ करने की सोच रहे है तो आगे बताई स्टेप्स को ध्यान से फॉलो करे .

इससे पहले की ‘How To Use Google Classroom’ इस टॉपिक की शुरुआत करने से पहले आपको बता दूँ की गूगल क्लासरूम वेबसाइट वर्शन के साथ Android और IOS एप्स में भी उपलब्ध है इसलिए आप इसे लैपटॉप/कंप्यूटर और मोबाइल में भी बड़े आसानी से इस्तेमाल कर सकते है .

गूगल क्लासरूम पर अकाउंट कैसे बनाये ?

  1. सबसे पहले classroom.google.com पर जाएँ
  2. ईमेल एड्रेस एंटर करे
  3. अपना पासवर्ड डालकर Next पर क्लिक करे
  4. आपका Google Classroom Account बन जायेगा

क्लास कैसे बनाये (How to create class)

  1. सबसे पहले गूगल अकाउंट से Google classroom में लॉगिन करे
  2. अब टॉप बार में Right Side पर + (plus) का सिम्बोल दिखाई देगा उसपर क्लिक करे’
  3. ‘+’आइकॉन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने दो ऑप्शन आएंगे यहाँ पर आपको Create class वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है
  1. सबसे पहले गूगल अकाउंट से Google classroom में लॉगिन करे
  2. अब टॉप बार में Right Side पर + (plus) का सिम्बोल दिखाई देगा उसपर क्लिक करे’
  3. ‘+’आइकॉन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने दो ऑप्शन आएंगे यहाँ पर आपको Create class वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है
  4. अब एक terms and condition वाला पेज खुलेगा यहाँ पर आपको चेकबॉक्स पर मार्क करके Agree कर लेना है Continue पर क्लिक करना है
  5. अब आपको कुछ जानकारिया मांगी जाएगी – Class name , Section , Subject और Room उसे भर के Create पर क्लिक करे
  6. अब आपको कुछ जानकारिया मांगी जाएगी यहाँ पर आपको सबसे Class name में अपनी कक्षा का नाम लिखना है , Section लिखना है , Subject में विषय का नाम लिखना है और Room वाले ऑप्शन में छात्रों की संख्या डालनी है सभी जानकारी बाहरणे के बाद Create पर क्लिक करे .
  7. अब आपकी class room create हो जाएगी

क्लास ज्वाइन कैसे करे (How to join class)

  • सबसे पहले अपने Google Classroom अकाउंट में लॉगिन करे
  • टॉप बार में ‘+’ आइकॉन पर क्लिक करे
  • अब Join Class पर क्लिक करे
  • अब class code को एंटर करे जो आपको अपने टीचर से प्राप्त होगा
  • अब Join पर क्लिक करे

Google Classroom FAQ In Hindi

गूगल क्लासरूम क्या है ?

Google क्लासरूम Google द्वारा स्कूलों के लिए विकसित एक मुफ्त वेब सेवा है जिसका उद्देश्य असाइनमेंट बनाना, वितरण और ग्रेडिंग को आसान बनाना है . Google Classroom का प्राथमिक उद्देश्य शिक्षकों और छात्रों के बीच फाइलों को साझा करने की प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करना है .

गूगल क्लासरूम कैसे यूज़ करे ?

सबसे गूगल क्लासरूम में साइन-अप करे . अपनी पहली क्लास क्रिएट करे और अपने स्टूडेंट्स को Invite करे .

गूगल क्लासरूम कब लांच हुआ ?

12 अगस्त 2014 को गूगल द्वारा गूगल क्लासरूम को लांच किया गया था .

क्या गूगल क्लासरूम फ्री है ?

जी हाँ , गूगल क्लासरूम फ्री है और आप इसे फ्री में यूज़ कर सकते है .

अंतिम शब्द

आज के आर्टिकल में हमने देखा गूगल क्लासरूम क्या है (google classroom in hindi) अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और अगर आपके मन में गूगल क्लासरूम से सम्बंधित कोई भी सवाल है तो उसे आप कमेंट करके पूछ सकते है .

अन्य पढ़े –

Rahul Rajputhttps://techyatri.com
Rahul Rajput is an internet entrepreneur , SEO expert and the author & founder of TechYatri.com , He loves to share his technical knowledge with people , He is also passionate about Blogging & Digital Marketing , He has working across various Internet-based businesses . When not working, you can find him enjoying with his family members and friends .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

यह भी पढ़े